भीड़ में भी ट्रैफिक पुलिसकर्मी को पहचान लेते हैं पक्षी, लोगों ने कहा ये हैं असल बर्डमैन

  • सूरज पिछले 10 साल से पक्षियों को हर रोज दाना खिलाते हैं
  • इसलिए लोगों ने उन्हें बर्डमैन के नाम से पुकारने लगे

By: Piyush Jayjan

Published: 13 Jan 2020, 11:37 AM IST

नई दिल्ली। ओडिशा ( Odisha ) के मयूरभंज जिले में एक ट्रैफिक पुलिस ( Traffic Police ) अधिकारी को बर्डमैन ( Birdman ) के नाम से जाना जाता है। इसके पीछे की वजह यह है कि पिछले 10 वर्षों उन्होंने हजारों कबूतर और अन्य पक्षियों को हर रोज खाना खिलाया है। यहीं वजह है कि लोगों ने उन्हें बर्डमैन ( Birdman ) के नाम से पुकारना शुरू कर दिया हैं।

52 वर्षीय सूरज कुमार राज ( Suraj Kumar Raj ) ओड़िशा के बारिपदा के रहने वाले हैं। सूरज कुमार पिछले काफी सालों से शहर के अलग-अलग हिस्सों में जाकर हर रोज पक्षियों को खाना खिलाते आ रहे हैं। ट्रैफिक पुलिस में काम कर रहे सूरज अपनी नौकरी के साथ पक्षियों को दाना खिलाने की भी जिम्मेदारी ली हुई है।

अलमारी गिरने से हुई बच्चे की मौत, अब कम्पनी भरेगी 331 करोड़ का मुआवजा

पक्षियों को खाना खिलाने के बारे में बात करते हुए सूरज ने कहा कि मुझे बहुत अच्छा लगता है, जब ये पक्षी मेरे हाथ पर बैठ कर दाना चुगते हैं। मैं इन पक्षियों से उतना ही प्रेम करता हूं, जितना ये मुझसे करते हैं। इसलिए कई बार ये होता है कि जब मैं अपनी ड्यूटी कर रहा होता हूं तो ये मेरे कंधे पर आकर बैठ जाते हैं।

birdman-450x300.jpg

यह पक्षी सूरज को इतनी अच्छी तरह से पहचान चुके है कि भले ही वो कितनी भी भीड़ में हो लेकिन पक्षियों के लिए उन्हें ढूंढना मुश्किल नहीं होता है। उन्होंने बताया कि हर रोज सुबह कबूतर और अन्य पक्षी दाना डालने के लिए उनका इंतजार करते हैं।

सूरज जैसे ही पक्षियों का दाना खिलाने के लिए उनके पास पहुंचते हैं तो वे उनके ऊपर चढ़ जाते हैं। उन्होंने बताया कि वह गायों को भी चारा खिलाते हैं। कई बार तो उन्हें बाइक पर जाते देख गायें खुद ही उनके पास आ जाती हैं। ओडिशा के कई लोग सूरज कुमार को बर्डमैन कहते हैं।

आग में घर जलकर हो गया था खाक, लॉटरी में लगा 7 करोड़ रुपए का जैकपॉट

स्थानीय लोग भी इस बारे में खुद बताते हैं कि कबूतर हर सुबह उनका इंतजार करते हुए देखे जा सकते हैं। सूरज के सीनियर अफसर भी उनकी काफी तारीफ करते हैं। अफसर अभिमन्यु नायक उनके काम की सराहना करते हुए कहते हैं कि वह इस काम के साथ अपनी ड्यूटी भी ईमानदारी से करते हैं।

Piyush Jayjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned