वर्चुअल मीटिंग्स के दौरान बॉडी लैंग्वेज का रखें खास ध्यान, ये हैं आसान टिप्स

कोविड-19 के दौर में वर्चुअल मीटिंग्स का ट्रेंड बढ़ा है, ऐसे में आपको अपनी बॉडी लैंग्वेज को बेहतर करना चाहिए ताकि इन मीटिंग्स के दौरान सबको प्रभावित कर सकें।

By: सुनील शर्मा

Published: 16 Oct 2020, 01:00 PM IST

वैसे तो वर्चुअल मीटिंग्स काफी समय से बिजनेस वर्ल्ड में हैं लेकिन कोविड-19 की वजह से इनमें बढ़ोतरी हुई है। आजकल लोगों को काम के सिलसिले में दिन में कई बार ऑनलाइन मीटिंग्स अटेंड करनी पड़ती हैं। ऐसे में यह जरूरी हो गया है कि इन वर्चुअल मीटिंग्स के दौरान जब आप दूसरों से बात करें तो आपकी बॉडी लैंग्वेज सही हो और आप प्रोफेशनल तरीके से अपनी बात रखें। जानिए, कैसे सुधारें अपनी बॉडी लैंग्वेज -

Govt Jobs: UPSC सहित इन विभागों में निकली हजारों नौकरियां, जल्दी ऐसे करें आवेदन

मैकेनिकल इंजीनियरिंग में कॅरियर के शानदार अवसर, कमाएंगे लाखों करोड़ों

चेहरे को बार-बार न छुएं
मीटिंग के दौरान बार-बार अपने चेहरे या बालों पर हाथ न लगाएं। ऐसा करने से लगेगा कि आप नर्वस हैं और वर्चुअल मीटिंग में शामिल बाकी लोगों पर आपका अच्छा प्रभाव नहीं पड़ेगा। इसके बजाय दूसरों की बातों पर सिर हिलाएं, हाथों को नोट्स लेने में व्यस्त रखें। इससे लगेगा कि आप दूसरों को सुन रहे हैं।

कोई और काम न करें
वर्चुअल मीटिंग्स के दौरान कोई और काम न करें। इसका मतलब यह है कि जब आप मीटिंग में हों, तब बार-बार फोन चेक करने, इधर-उधर देखने से बचें। अगर आप ऐसा करेंगे तो दूसरों को लगेगा कि मीटिंग में आपका ध्यान नहीं है और गलत इम्प्रेशन पड़ेगा। यह आपके लिए अच्छा नहीं है।

नौकरी वालों के लिए बड़ी खबर! खत्म होगा ग्रेच्युटी का नियम

मुस्कुराते रहें
मीटिंग में शामिल सभी लोगों को प्रभावित करने के लिए आपको चेहरे पर मुस्कुराहट रखनी चाहिए। इससे लोग आपसे खुलकर बात कर पाएंगे और उन्हें लगेगा कि आप बात करने में रुचि ले रहे हैं। वहीं, अगर आप ज्यादा मुस्कुराएंगे तो ऐसा लगेगा कि आप मीटिंग में जबर्दस्ती शामिल हो रहे हैं।

सही होना चाहिए पोश्चर
मीटिंग्स के दौरान अपना पोश्चर सही रखें। अपने डेस्क पर झुकें नहीं, कुर्सी पर सीधे बैठें, अपने हाथों को क्रॉस न करें। इसके बजाय सीट के किनारे के पास बैठें, अपने हाथों को खुला रखें। इससे लगेगा कि आप मीटिंग में ध्यान दे रहे हैं।

हाथों का इस्तेमाल करें
विडियो कॉन्फ्रेंसिंग के दौरान जब आप अपनी बात कहें तो अपने हाथों का जरूर इस्तेमाल करें। इससे ऐसा लगेगा कि आप पूरे जोश के साथ मीटिंग में हिस्सा ले रहे हैं। वहीं, अगर आप ऐसा नहीं करेंगे तो लोग आपकी बातों को गंभीरता से नहीं लेंगे।

आइ कॉन्टैक्ट बनाए रखें
बातचीत के दौरान आइ कॉन्टैक्ट बनाए रखना जरूरी होता है। यह बात ऑनलाइन मीटिंग्स में भी लागू होती है। अगर आप अपनी बात कहते समय या दूसरों की बात सुनते समय आइ कॉन्टैक्ट बनाए रखेंगे तो आप यकीनन अच्छा इम्प्रेशन बना सकेंगे।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned