सफाई कर्मचारी बंद करना भूल गया था बुलेट ट्रेन का दरवाजा, 340 पैसेंजर्स की जान को था खतरा

सफाई कर्मचारी बंद करना भूल गया था बुलेट ट्रेन का दरवाजा, 340 पैसेंजर्स की जान को था खतरा

Soma Roy | Updated: 23 Aug 2019, 05:03:40 PM (IST) हॉट ऑन वेब

  • Bullet Train : हाईबुसा नंबर 46 ट्रेन का दरवाजा रह गया था खुला
  • ट्रेन अपनी स्पीड पर 4 किलोमीटर तक वैसे ही चलती रही थी

नई दिल्ली। तेज रफ्तार का नाम आते ही जापान की बुलेट ट्रेन का नाम सबसे पहले आता है। मगर बुलेन ट्रेन की यही स्पीड करीब साढ़े तीन सौ लोगों की जान की दुश्मन बन सकती थी। दरअसल हाईबुसा नंबर 46 बुलेट ट्रेन का एक दरवाजा गलती से खुला रह गया था। मगर ड्राइवर को इसकी जानकारी न होने पर ट्रेन 280 प्रति घंटे की रफ्तार से गुजर गई। मगर गनीमत रही कि इसमें कोई हादसा नहीं हुआ।

ईस्ट जापान रेलवे कंपनी ने बताया कि सफाई कर्मचारी बुलेट ट्रेन का दरवाजा बंद करना भूल गया था। चूंकि इस हाईबुसा 46 ट्रेन के दरवाजे मैनुअल थे इसलिए इस बात का पता ड्राइवर को नहीं चल सका। ट्रेन अपनी स्पीड से गुजर गई। उस दौरान ट्रेन में 340 लोग सवार थे। ट्रेन 280 की स्पीड में करीब 4 किलोमीटर तक दौड़ती रही।

bullet_train.jpg

बाद में ड्राइवर को दरवाजे के खुले होने के बारे में पता चला तो तुरंत इमरजेंसी ब्रेक लगाया गया। इसकी वजह से ट्रेन कुछ समय के लिए रोकी गई। ऐसे में बुलेट ट्रेन अपने तय समय से 19 मिनट देरी से टोक्यो पहुंची।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned