China में फैल सकता है Corona से भी खतरनाक Virus, जानिए इंसानों के लिए कितना खतरनाक?

दुनियाभर के वैज्ञानिक कोरोना वायरस (Coronavirus) की वैक्सीन खोजने में लगा हुआ है। लेकिन अभीतक किसी के हाथ सफलता नहीं लगी है। वहीं इनसब के बीच वैज्ञानिकों ने आशंका जताई है कि चीन में एक नया वायरस पैदा(China risking new pandemic even more deadly than COVID) हो सकता है। जो कोरोना (Corona) से कई गुना ज्यादा खतरनाक होगा

 

By: Vivhav Shukla

Published: 20 Jul 2020, 03:15 PM IST

नई दिल्ली। दुनिया भर में रोजाना कोरोना (Corona) के लाखों मामले सामने आ रहे हैं। ताजे आकंड़े के मुताबिक 1.5 करोड़ से अधिक लोग कोरोना संक्रमित हो चुके हैं। वहीं 5.6 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है। लगभग सभी देश इस जानलेवा वायरस की वैक्सीन खोजने में लगा हुआ है। लेकिन अभीतक किसी के हाथ सफलता नहीं लगी है। वहीं इनसब के बीच वैज्ञानिकों ने आशंका जताई है कि चीन में एक नया वायरस पैदा(China risking new pandemic even more deadly than COVID) हो सकता है। जो कोरोना से कई गुना ज्यादा खतरनाक होगा। वैज्ञानिक ने चेतावनी दी है ये वायरस कोरोना की तरह ही इंसानों में फैल सकता है

कोरोना से भी खतरनाक होगा ये वायरस

Express.co.uk की रिपोर्ट के मुताबिक वर्ल्ड एनिमल प्रोटेक्शन के साथ काम करने वालीं साइंटिस्ट केट ब्लैसजैक (Ms Blaszak) का मानना है कि चीन में बेहद आक्रामक तरीके से फार्मिंग की जा रही है जिससे एक नए वायरस के फैलने का खतरा बढ़ गया है। ब्लैसजैक (Ms Blaszak) के मुताबिक कुछ दिनों पहले ही चीन बर्ड फ्लू के 2 नए स्ट्रेन पाए गए गए हैं। इसके साथ ही इंसान, सूअर और एवियन इंफ्लूएंजा वायरस से मिलकर बने स्वाइन फ्लू (Swine flu) का संक्रमण भी चीन में फैल रहा है। ऐसे में ये सभी वायरस के मिलकर खतरनाक वायरस स्ट्रेन पैदा कर सकते हैं। ये वायरस कोरोना (Corona) से कई गुना ज्यादा खतरनाक हो सकते हैं।

इम्यून सिस्टम (immune system) पहले से बहुत कमजोर

एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन (China) में मौजूदा स्वाइन फ्लू वायरस (Swine flu) में क्षमता है कि वह इंसान के गले और रेस्पिरेटरी सिस्टम में बाइंड हो जाए। बीते 15 सालों में चीन में फार्मिंग के तरीकों में काफी तेजी से बदलाव आया है। यहां लोग आक्रामक फार्मिंग को बढावा दे रहे हैं साथ ही जंगली जानवरों को भी मार रहे हैं। इसके साथ ही यहां कई तरह के जहरीले जानवरों का मांस भी खा रहे हैं। जिसके चलते यहां के लोगों का इम्यून सिस्टम (immune system) पहले से बहुत कमजोर हो चुका है। ऐसी स्थिति में वायरस का नया म्यूटेशन हो सकता है या नए वायरस पैदा हो सकते हैं। इसके साथ ही यहां के निकलने वाले कचरे से भी इंसानों को खतरा हो सकता है।

रिपोर्ट के मुताबितक चीन दुनिया में सूअर के मांस का सबसे बड़ा उत्पादक है, जबकि चिकन के उत्पादन के मामले में दुनिया में दूसरे नंबर पर है। जानकारों की माने तो दुनियाभर में कहर मचाने वाला कोरोना वायरस भी चीन के वुहान में मौजूद मीट मार्केट से ही फैला था।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned