Coronavirus: अगर कोई चमत्कार नहीं होगा तो कोरोना की वैक्सीन मिलना काफी मुश्किल: WHO

-कोरोना वायरस ( Coronavirus ) की वैक्सीन की उम्मीदों को बड़ा झटका लग सकता है।
-विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) ने कहा है कि इस साल अगर कोई चमत्कार नहीं होगा तो कोरोना की वैक्सीन ( Coronavirus Vaccine ) आना मुश्किल है।
-विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेष दूत डॉ. डेविड नाबारो ( Dr. David Nabarro ) ने चेतावनी दी है कि इस साल वैक्सीन ( Covid-19 Vaccine ) तैयार भी हो जाती है तो उसे लोगों तक पहुंचने में ढाई साल से भी ज्यादा का वक्त लग सकता है।

By: Naveen

Updated: 23 Jun 2020, 01:20 PM IST

नई दिल्ली।
कोरोना वायरस ( coronavirus ) की वैक्सीन की उम्मीदों को बड़ा झटका लग सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ( WHO ) ने कहा है कि इस साल अगर कोई चमत्कार नहीं होगा तो कोरोना की वैक्सीन ( Coronavirus Vaccine ) आना मुश्किल है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के विशेष दूत डॉ. डेविड नाबारो ( Dr. David Nabarro ) ने चेतावनी दी है कि इस साल वैक्सीन ( Covid-19 Vaccine ) तैयार भी हो जाती है तो उसे लोगों तक पहुंचने में ढाई साल से भी ज्यादा का वक्त लग सकता है। उन्होंने कहा कि अभी तक मलेरिया ( Malaria ) और एचआईवी ( HIV ) जैसे बीमरियों की भी वैक्सीन भी पूरी तरह तैयार नहीं हो सकी है। ऐसे में इस साल कोरोना वायरस की वैक्सीन की उम्मीद मुश्किल है।

coronavirus_vaccine_01.jpg

अभी तक नहीं बनी कोई वैक्सीन
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि अमेरिका, इटली समेत कई देश वैक्सीन बनाने का दावा कर चुके हैं, लेकिन अभी तक ऐसी कोई वैक्सीन नहीं बनी है, जिसे कोरोना वायरस की दवा कहा जा सके। नाबारो ने कहा, इस साल के अंत तक वैक्सीन बन भी जाती है तो इसके प्रभाव और सुरक्षा की जांच में वक्त लगेगा। साथ ही बीमारी के इलाज के लिए बड़ी मात्रा में प्रोडक्शन करना होगा, जिसमें ढाई साल से भी ज्यादा का वक्त लग सकता है।

coronavirus_sss_1.jpg

घनी आबादी वाले देशों के लिए चेतावनी
डॉ. डेविड नाबारो ने खासकर बड़ी जनसंख्या वाले भारत-ब्राजील जैसे देशों को विशेष चेतावनी दी है और अतिरिक्त सतर्कता बरतने की हिदायत दी है।

coronavirus_vaccine_02.jpg

उन्होंने कहा, काश मैं इस आकलन में गलत होता, लेकिन अभी से कई देश ढील देने लगे हैं, जो और भी खतरनाक साबित हो सकता है।

20200128170l-696x451_1.jpg

डेक्सामेथासोन ( Dexamethasone ) नहीं लेने की सलाह
इसी बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख ने डेक्सामेथासोन को नहीं लेने की सलाह दी है। उन्होंने कहा कि इसका केवल क्लिनिकल सुपरविजन में कोरोना वायरस के गंभीर मरीजों पर ही किया जाना चाहिए। अभी तक ऐसे कोई सबूत नहीं हैं कि यह दवा कोरोना वायरस के लिए असरदार हो सकती है।

coronavirus
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned