Coronavirus: कोरोना वायरस का खतरा, अब ये लक्षण दिखाई दे तो हो जाए सावधान! ऐसे करें पहचान

-Coronavirus: भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना ( Covid-19 Virus ) संकट से जूझ रही है। देश में अब तक 4,25,282 मामले सामने आ चुके हैं। तमाम वैज्ञानिक और डॉक्टर्स इस वायरस की वैक्सीन ( Coronavirus Vaccine ) खोजने में जुटे हुए हैं।
-विश्व स्वास्थय संगठन ( WHO ) के मुताबिक, कोरोना वायरस ( Covid-19 India ) के प्रारंभिक लक्षण हल्की बुखार, खांसी-जुकाम आदि होते हैं।
-Coronavirus Symptoms: हाल ही में एक नए शोध में सामने आया है कि खांसी-जुकाम आदि से पहले भी कोरोना के लक्षण दिखाई देने लगते हैं।

By: Naveen

Updated: 22 Jun 2020, 02:58 PM IST

नई दिल्ली।
Coronavirus: भारत समेत पूरी दुनिया कोरोना ( COVID-19 virus ) संकट से जूझ रही है। देश में अब तक 4,25,282 मामले सामने आ चुके हैं। जबकि, 13,699 लोगों की मौत हो चुकी है। तमाम वैज्ञानिक और डॉक्टर्स इस वायरस की वैक्सीन ( Coronavirus Vaccine ) खोजने में जुटे हुए हैं तो वहीं, लगातार चल रही रिसर्च में कई बातें भी सामने आ रही हैं। विश्व स्वास्थय संगठन ( WHO ) के मुताबिक, कोरोना वायरस ( Covid-19 India ) के प्रारंभिक लक्षण हल्की बुखार, खांसी-जुकाम आदि होते हैं। लेकिन, हाल ही में एक नए शोध में कोरोना के लक्षण ( Coronavirus symptoms ) को लेकर कई खुलासे हुए हैं। शोध में सामने आया है कि खांसी-जुकाम आदि से पहले भी कोरोना के लक्षण दिखाई देने लगते हैं।

coronavirus_sss.jpg

ये दो लक्षण हो सकते हैं कोरोना के
जेएएमए ओटोलरींगोलॉजी हेड एंड नेक सर्जरी पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के अनुसार अगर किसी व्यक्ति के सूंघने और स्वाद लेने की क्षमता कम हो जाती है, तो वह कोरोना वायरस का शिकार हो सकता है। खास बात है कि ये लक्षण सर्दी-जुकाम से भी पहले दिखाई देने लगते हैं।

ऐसे में कोरोना की जांच कराना जरूरी हो जाता है। वैज्ञानिकों के अनुसार, पहले 204 कोविड-19 के मरीजों पर अध्ययन किया गया, जिसमें सामने आया कि 55 फीसदी लोगों में स्वाद में कमी मौजूद थी। जबकि, 41 फीसदी लोगों में सूंघने की क्षमता कम देखी गई। शोध में कहा गया कि लगातार स्वाद और सूंघने में कमी कोविड -19 के प्रारंभिक लक्षण हो सकते हैं।

Unlock 1.0: फिलहाल मेट्रो से लेकर स्कूल और कॉलेज रहेंगे बंद, दोबारा खोलने पर कोई निर्णय नहीं

coronavirus_treatment_02.jpg

359 कोविड-19 मरीजों पर जांच
वैज्ञानिकों ने 5 मार्च से 23 मार्च, 2020 के बीच कोविड-19 के मरीजों पर इस बात पर रिसर्च की। इनमें ज्यादातर मरीज ठीक होकर घर लौट चुके थे। इनमें 116 लोगों में स्वाद और सूंघने की क्षमता में कमी पाई गई। शोध में खास बात रही कि ये दोनों लक्षण पुरुष की तुलना में महिलाओं में ज्यादा थे।

coronavirus_treatment.jpg

वहीं, मध्यम आयु वर्ग के व्यक्तियों में युवाओं की तुलना में अधिक दिखाई दिए। शोधकर्ताओं ने कहा है कि ये दो लक्षण दिखने पर तुरंत चिकित्सकों की सलाह लेनी चाहिए।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned