Cruelest Person in the World: दुनिया के सबसे खूंखार आदमी

Cruelest Person in the World: आज हम बात करने जा रहे हैं कुछ ऐसे शासकों की जिन्हें अगर मानव इतिहास के खूंखार इंसानों का नाम दें तो शायद गलत नहीं होगा।

By: Ashwin Sharma

Updated: 20 Aug 2021, 04:26 PM IST

नई दिल्ली। Cruelest Person in the World: यह तो आप जानते ही होंगे कि जो प्रकृति के साथ खेलता है, प्रकृति उसका विनाश कर देती है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है अगर इंसान ही इंसान का विनाश चाहे तब क्या होगा। अगर आप सोच रहे हैं कि हम ज़ॉम्बी की बात कर रहे हैं, तो आपका अनुमान बिल्कुल गलत हैं। आज हम आपको कुछ ऐसे इंसानो के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने इंसानियत को शर्मसार कर दिया था। जी हां, अपने मतलब के लिए इंसान किसी भी हद तक गिर सकता है। इतिहास के पन्नों को पलटने के बाद हमें कुछ एसे शासक मिले जिन्होंने अपने फायदे के लिए करोडों लोगों का खून बहाया।

चंगेज़ ख़ान (Genghis Khan: 1162-1227)

 Genghis Khan

चंगेज़ ख़ान यह नाम किसने नहीं सुना होगा। खान ने मंगोल पर 1206 से 1227 के बीच राज किया। उसकी क्रूरता और ख़ून की प्यासी नीयत की वजह से सैकड़ों की तादाद में लोगों को मारा गया। चंगेज़ ख़ान के राज में 2 से 6 करोड़ लोगों के मारे जाने का अनुमान है। बताया जाता है कि अगर उसके आदमियों/सैनिकों को रास्ते में पानी की कमी पड़ती तो वो अपने घोड़ों का ख़ून पी लेते थे। कहा तो यह भी जाता है कि इरान के पठारी क्षेत्र में उसने लगभग 1.5 करोड़ लोगों को मार डाला।

व्लाद (Vlad the Impaler: 1431-1476/77)

Vlad the Impaler

Vlad the Impaler यह नाम आपने शायद ही सुना होगा। लेकिन इन्हें Vlad Dracula भी कहा जाता है। Vlad ने 1448 से 1462 के बीच Wallachia पर राज किया और अपने राज के दौरान उसने करीबन 20% जनसंख्या का सफ़ाया कर दिया। कहते हैं कि वो बच्चों को पकाकर, उनकी मां को खिलाता था। पत्नी के स्तन काटकर पति को खिलाता था। अब इससे ज्यादा और इंसान कितना नीचे गिरता है।

यह भी पढ़े:-Indian Royal Families present status and business

ईवान (Ivan the Terrible: 1530-1584)

Ivan the Terrible

आप जानकर चौक जाएंगे कि किसी बच्चे के ऐसे अनोखे शौक कैसे हो सकते हैं। बचपन में वह जानवरों को ऊंची इमारतों से नीचे फेंकता था। वह बुद्धिमान था पर मानसिक तौर पर बीमार होने की वजह से उसका ग़ुस्सा बेक़ाबू था। उसने ग़ुस्से में अपने ही उत्तराधिकारी को मार डाला। उसे Impaling (नीचे से नुकीली चीज़ घुसाकर मुंह से निकालना), सिर कलम करना, तलना, अंधा करना, आंतें निकालने का शौक़ था। आप ही सोचिए किसी इंसान को ऐसे घिनौने शौक कैसे हो सकते हैं। उसे दोस्तों में भी दुश्मन नज़र आते थे। कहा जाता है कि Novgorod कत्लेआम के दौरान उसने 60,000 लोगों को तड़पा-तड़पाकर मारा था।

लियोपोल्ड (Leopold the IInd of Belgium: 1835-1909)

Leopold the IInd of Belgium

Leopold ने पूरी दुनिया को यक़ीन दिलाया कि वो कॉन्गो की मदद करना चाहता है। उसने कॉन्गो फ़्री स्टेट पर राज्य किया जो बेल्जियम से लगभग 76 गुना बड़ा था। बताया जाता है कि 1885-1908 के बीच उसके राज्य के दौरान पूरा देश दहशत में था। उसके राज में हज़ारों लोग बीमारियों के कारण मारे गए। पैसा और पावर के लिए उसने 10 मिलियन कॉन्गो निवासियों को मार डाला यानि उसने लगभग कॉन्गो की आधी आबादी मिटा दी।

जोसेफ विसारियोनोविच (Joseph Stalin: 1878-1953)

Joseph Stalin

Joseph Vissarionovich Stalin, इस नाम से तो आप वाकिफ ही होंगे। बता दें कि यह साल 1933 से 1953 तक सोवियत यूनियन का तानाशाह था। कहा जाता है कि जवानी के दिनों में वो लूट-पाट और हत्या जैसे अपराधों को अंजाम देता था। उसने डर और ख़ौफ़ बनाकर 30 सालों तक सोवियत यूनियन पर राज किया। उसके फ़ैसलों की वजह से देश में सूखा पड़ा, भुखमरी फैली और लाखों लोगों की जान गई। स्टालिन के राज में लगभग 1.5 मिलियन सोवियत यूनियन की महिलाओं का बलात्कार हुआ। आपको जानकर हैरानी होगी कि स्टालिन को 1945 और 1948 में नोबेल पीस प्राइज़ के लिए नोमिनेट भी किया गया था।

एडोल्फ हिटलर (Adolf Hitler: 1889-1945)

 Adolf Hitler

हिटलर, एक ऐसा नाम है जिससे सभी परिचित हैं। यह एक ऐसा नाम है जिसने एक बार तो पूरी दुनिया को हिला कर रख दिया। हिटलर 1933 से 1945 तक जर्मनी का चांसलर था। अगर इतिहास में कोई सबसे खूंखार, बुद्धिमान और क्रिएटिव तानाशाह पैदा हुआ है तो वो हिटलर था। साथ ही द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान यहूदियों के होलोकॉस्ट के लिए वही ज़िम्मेदार था। उसका मानना था कि सभी समस्याओं की जड़ है यहूदी हैं। कहा जाता है कि हिटलर की वजह से 5 करो़ड़ से ज़्यादा लोग मारे गए। 30 अप्रैल, 1945 को उसने आत्महत्या कर ली।

माओत्से-तुंग (Mao Zedong: 1893-1976)

Mao Zedong

माओ 1943 से 1976 के बीच चीन का तानाशाह था। वो चीन को सुपरपावर बनाने का सपना देखता था और ऐसा करने की राह में उसने कई लोगों की जान ले ली। क्या आप जानते हैं कि चीन को मॉर्डन बनाने का श्रेय उसे दिया जाता है पर इसकी क़ीमत 4 से 7 करोड़ लोगों ने अपनी जान गंवा कर चुकाई।

यह भी पढ़े:-Real life Prince of India: आज भी वही है उनकी शान

हैन्रिख़ हिम्म्लर (Heinrich Himmler: 1900-1945)

Heinrich Himmler

कहा जाता है कि यहूदियों का ख़ात्मा करना है, इस फ़ैसले के पीछे Heinrich Himmler का दिमाग़ था। Himmler ने 60 लाख यहूदियों, 2-5 लाख रूसी और कई अन्य समुदाय के लोगों को मारने का आदेश दिया था। उसके पास यहूदियों की हड्डियों और चमड़े से बनी एक कुर्सी थी। लेकिन इतिहास में इसका कोई जिक्र नहीं मिलता।

पोल पोट (Pol Pot: 1925-1998)

Pol Pot

Pol Pot कंबोडिया क्रांतिकारी संगठन, Khmer Rogue का नेता था। कहा जाता है कि उसने कंबोडिया में नरसंहार करवाया। Pol Pot कंबोडिया की सभ्यता को ख़त्म करना चाहता था। कहा जाता है कि वो अब तक का इकलौता ऐसा नेता है जिसने अपने ही देश में नरसंहार करने के आदेश दिए। वो 1976 से 1979 के बीच प्रधानमंत्री था और उसके फ़ैसलों की वजह से तकरीबन 20 लाख से ज़्यादा लोगों की जान गई। ये कंबोडिया की जनसंख्या का 25% था। वो इतना खूंखार था कि उसने बच्चों के हाथ-पैर तोड़-तोड़कर मारने के आदेश दिए थे।

ईदी अमीन (Idi Amin: 1952-2003)

Idi Amin
IMAGE CREDIT: Idi Amin

Idi Amin उगांडा का चीफ़ ऑफ़ आर्मी स्टाफ़ था। जब उगांडा का राष्ट्रपति सिंगापुर गया हुआ था तब उसने सत्ता हथिया ली थी। उसने उगांडा में विकास के वादे किए पर वो तानाशाह निकला। उसे 'उगांडा का कसाई' कहा जाता है। वu लोगों को मारता और मगरमच्छों को खिलाता और साथ ही वो ख़ुद इंसानों को खाता था। कहा जाता है कि वो इतना क्रूर था कि उसने अपनी एक पत्नी को काट डाला था। 1971 से 1979 के बीच उसने पांच लाख लोगों की जान ली।

Show More
Ashwin Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned