गुरूग्राम की महिला का साड़ी पहनना दिल्ली के रेस्टोरेंट नहीं आया रास, स्टाफ ने नहीं दी एंट्री

  • साड़ी (saree) पहनकर गई महिला को दिल्ली के एक रेस्टोरेंट (Restaurant) में नहीं मिली एंट्री
  • स्टाफ ने कहा- 'हमारे यहां Ethnic Wear अलाओ नहीं है'

By: Vivhav Shukla

Published: 15 Mar 2020, 07:54 PM IST

नई दिल्ली। साड़ी (saree) का नाम सुनते ही एक भारतीय नारी की छवि आँखों के सामने आती है। साड़ी (saree) भारतीय स्त्री का मुख्य परिधान है। साड़ी (saree) को विदेशों में भी खूब पसंद किया जा रहा है लेकिन देश की राजधानी दिल्ली (Delhi) के एक रेस्टोरेंट ये बात जम नहीं रही। एक महिला को साड़ी (saree) पहनने की वजह से रेस्टोरेंट (Restaurant) के गेट पर ही रोक दिया गया। महिला ने ट्वीटर पर इस पूरी घटना का वीडियो भी शेयर किया है।

चीन के करीबी ताइवान,हॉन्गकॉन्ग,सिंगापुर देशों ने कैसे पाया कोरोना पर काबू? ये जान अमेरिका भी हुआ हैरान

दरअसल, मामला साउथ दिल्ली के एंबियंस मॉल (south delhi ambience mall) स्थित Kylin & Ivy Bar का है। इस रेस्टोरेंट में गुरुग्राम (Gurugram) के रहने वाली संगीता एथनिक कपड़े (Ethnic Wear) यानी साड़ी पहन के गई थी। लेकिन उन्हें गेट पर ही रोक दिया गया। रेस्टोरेंट के कर्मचारी ने उन्हें ये कह के मना कर दिया कि 'हमारे यहां एथनिक वीयर अलाओ नहीं है''। संगीता ने इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया। जिसे उन्होंने होली के दिन ट्वीटर पर शेयर किया था।

वीडियो के कैप्सन में उन्होंने लिखा कि 'एंट्री इसलिए नहीं दी गई क्योंकि मैं एथनिक वीयर में थी। अपने ही देश का एक रेस्टोरेंट स्मार्ट केजुअल कपड़े पहनने को कहता है। उसे इंडियन वीयर पसंद नहीं है। इस बात के लिए भारतीय होने पर गर्व महसूस करें? इसके लिए आवाज उठाई जानी चाहिए'।

100 साल पहले साईं बाबा ने दूर की थी कोरोना जैसी महामारी, ऐसे बचाई थी लाखों लोगों की जिंदगी

बता दें इस वीडियो को अब तक 7 हजार से अधिक बार देखा जा चुका है। लोग इसे जमकर शेयर कर रहे हैं साथ ही अपनी राय भी दे रहे हैं। ज्यादातर लोग संगीता के ही साथ दिखाई दे रहे हैं और रेस्टोरेंट को बैन करने की बात कर रहे हैं।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned