एक नई उम्मीद: सेक्स वर्कर बेटी को बनाना चाहती है डॉक्टर, दिल्ली पुलिस कर रही है ऐसे मदद

  • सेक्सवर्कर के बच्चों को गंदगी के दलदल से बाहर निकालकर उन्हें नई दिशा दिखा रही है दिल्ली पुलिस
  • उनके ख्वाब को पूरा करने के लिए कमला मार्केट थाने की पुलिस (Delhi Police) ने किया यह सराहनीय काम

By: Pratibha Tripathi

Updated: 18 Dec 2020, 11:01 PM IST

नई दिल्ली। पुलिस का नाम सुन कर लोग दहशत में आ जाते हैं। आये दिन पुलिस की दास्तान सुनने को मिलती रहती है, लेकिन दिल्ली पुलिस ने कुछ ऐसा किया है जिसकी हर ओर तारीफ हो रही है। दिल्ली के जीबी रोड जैसी अंधेरी दुनिया मे रहने वाली एक सेक्स वर्कर (Sex Worker) की बेटी ने ऐसा ख्वाब देखा है जिसका उस दलदल में ख्वाब पूरा हो पाना असंभव है। लेकिन जहां चाह होती है वहां राह खुद बा खुद निकल जाती है। ऐसा ही हुआ जीबी रोड की एक सेक्स वर्कर की 5 साल की बेटी के साथ। मां अपनी बच्ची को जीबी रोड की दल दल से दूर पढ़ा लिखा कर डॉक्टर बनना चाहती है। इस ख्वाब को पूरा करने के लिए कमला मार्केट थाने की पुलिस (Delhi Police) ने बड़ा रोल अदा किया है।

एक दिन कमला मार्किट पुलिस जीबी रोड में सेक्स वर्करों से इस नरक से निकालने की बात करने पहुंची। वहां की महिला पुलिस की अधिकारी ने सेक्स वर्कर की 5 साल की बच्ची से उसका हालचाल जानने के लिए बात की, तो उस बच्ची ने पढ़ लिखकर डॉक्टर बनने की इच्छा जताई। पर जीबी रोड की गंदगी में पढ़ाई संभव नही थी, जिसे देखते हुए पुलिस ने बच्ची की मां से पढ़ाई के लिए दूर रखने की इजाजत मांगी, मां ने तुरंत इनके लिए सहमति जताई।

पुलिस ने इंसानियत की मिसाल कायम करते हुए उस बच्ची को लाजपत नगर के चाइल्ड वेल्फेयर कमेटी के सामने पेश कर बच्ची के पढ़ने की इच्छा से उन्हें अवगत कराया। यह जान कर चाइल्ड वेलफेयर कमेटी ने उस बच्ची को चिल्ड्रन होम भेज दिया, अब वहीं रह कर बच्ची अपनी पढ़ाई के सपने को पूरा कर पायेगी। पुलिस की इस दरियादिली से माँ और बेटी दोनों पुलिस के शुक्रगुजार हैं। मध्य दिल्ली के डीसीपी संजय भाटिया की माने तो पुलिस केवल बच्ची को चिल्ड्रेन होम भर नहीं भेजेगी, बल्कि दिल्ली पुलिस नियमित बच्ची की जरूरतों का पूरा-पूरा ध्यान भी रखेगी।

Pratibha Tripathi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned