Fact Check: महिला स्वरोजगार योजना के तहत मोदी सरकार आपके खाते में डालेगी 1-1 लाख रुपये?

-Fact Check: कोरोना संकट ( Coronavirus ) की सबसे ज्यादा मार गरीब, असहाय, छोटे दुकानदारों और मजदूरों पर पड़ी है।
-इन दिनों सोशल मीडिया ( Social Media ) पर एक पोस्ट वायरल ( Viral Post ) हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि मोदी सरकार सभी महिलाओं के बैंक खातों में 1 लाख रुपये भेज रही है।
-पोस्ट में कहा गया है कि सरकार महिला स्वरोजगार योजना के तहत यह राशि खाते में ट्रांसफर कर रही है।

By: Naveen

Published: 21 Sep 2020, 04:04 PM IST

नई दिल्ली।
Fact Check कोरोना संकट ( coronavirus ) की सबसे ज्यादा मार गरीब, असहाय, छोटे दुकानदारों और मजदूरों पर पड़ी है। ऐसे में मोदी सरकार ( Modi Govt ) आर्थिक पैकेज के जरिए लोगों को आर्थिक मदद पहुंचा रही है। सरकार ने महिलाओं के खाते में 500-500 रुपये की राशि भेजी है। लेकिन, इन दिनों सोशल मीडिया ( Social Media ) पर एक पोस्ट वायरल ( Viral Post ) हो रहा है, जिसमें दावा किया जा रहा है कि मोदी सरकार सभी महिलाओं के बैंक खातों में 1 लाख रुपये भेज रही है। पोस्ट में कहा गया है कि सरकार महिला स्वरोजगार योजना के तहत यह राशि खाते में ट्रांसफर कर रही है। तो ऐसे में क्या सच में सरकार महिलाओं के खाते में 1 लाख रुपये भेज रही है?

क्या है दावा?
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे मैसेज में दावा किया जा रहा है महिला स्वरोजगार योजना के तहत सरकार सभी महिलाओं के बैंक खाते में 1 लाख रुपये ट्रांसफर कर रही है। मैसेज के एक वीडियो में बताया गया है। वीडियो में दावा किया गया है कि सरकार महिला स्वरोजगार योजना चला रही है, जिसके तहत महिलाओं के खाते में एक लाख रुपये की राशि भेजी जाएगी।

क्या है Red Mercury और लोग क्यों इसके लिए लाखों रुपये देने के लिए तैयार हैं?

 

क्या है सच्चाई?
जी नहीं, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा ये मैसेज पूरी तरह फर्जी है। सरकार ऐसी कोई योजना नहीं चला रही है। सरकारी एजेंसी पीआईबी फैक्ट चेक ने ट्विटर पर जानकारी दी है कि यह दावा फर्जी है और सरकार द्वारा ऐसी कोई घोषणा नहीं की गई है। पीआईबी ने कहा, यह दावा फर्जी है, केंद्र सरकार द्वारा महिला स्वरोजगार जैसी कोई योजना नहीं चलाई जा रही है। ऐसे में लोग सतर्क रहें।

पत्नी को फोन पर बोला- 'मुझे कोरोना हो गया है, मैं मर रहा हूं...' फिर कमरे में गर्लफ्रेंड के साथ मिला

coronavirus Fact Check
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned