कैसे एक फुटबॉल मैच की वजह से कोरोना ने इटली को कब्रगाह में तब्दील कर दिया

  • इटली के डॉक्टरों का मानना है कि इस महामारी के देश में फैलने का कारण चैम्पियंस लीग का एक मैच है, जो कि अंटलाटा और वेलंसिया के बीच खेला गया था

Piyush Jayjan

27 Mar 2020, 11:31 AM IST

नई दिल्ली। कोरोनावायरस ( coronavirus ) के कारण अब तक सबसे ज्यादा दुनियाभर में सबसे ज्यादा मौतें इटली में हुई हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक अब तक 7 हजार से ज्यादा लोग इस वायरस के कारण जान गंवा चुके हैं। इसमें भी अकेले 1 हजार लोगों की मौत बर्गामो शहर में हुई।

इटली में कोविड-19 ( COVID-19 ) के डर के बीच इम्यूनॉलिस्ट फ्रांसिस्को फोके ने एक बड़ा दावा किया है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक इटली ( Italy )के इस डॉक्टर का कहना है कि इस महामारी के देश में फैलने के कारण चैम्पियंस लीग का एक मैच हो सकता है।

जिस मैच वो बात कर रहे है यह मुकाबला 19 फरवरी को अटलांटा और वेलेंसिया ( Atalanta and Valencia ) के बीच मिलान शहर के सैन सीरो स्टेडियम में खेला गया था। इस मैच को अटलांटा ने 4-1 से अपने नाम किया था। बर्गामो के करीब 40 हजार लोग अपनी टीम अटलांटा का मैच देखने के लिए मिलान पहुंचे थे।

कोरोना से जंग: इंग्लिश क्रिकेटर्स ने शुरू की अनोखी पहल, पब और रेस्त्रां को ग्रॉसरी स्टोर में बदला

मेहमान क्लब वेलेंसिया के 2500 से ज्यादा फैन्स स्टेडियम में मौजूद थे। हालांकि पहले यह मैच बर्गामो में ही खेला जाना था। लेकिन वहां के जेविस स्टेडियम में दर्शक क्षमता कम होने की वजह से मैत रो मिलान में कराया गया। इस मैच के दो दिन बाद ही इटली में कोरोना से संक्रमित पहली मौत का मामला सामने आया।

इसके बाद हालात इस कदर बेकाबू हुए कि इटली का यह शहर कोरोनावायरस का केंद्र बन गया। बर्गामो ( Bergamo ) के मेयर ने मीडिया से चर्चा में कहा था- अगर यह सही है कि जनवरी में ही यह वायरस यूरोप में आ गया था तब बहुत हद तक मुमकिन है मैच देखने पहुंचे 40 हजार लोगों ने एक-दूसरे को कोरोना से संक्रमित किया हो।

बर्गामो अस्पताल के पल्मोनॉजी डिपार्टमेंट के प्रमुख भी उस मैच को 'जैविक बम' का नाम दे चुके हैं। मैच वेन्यू तक पहुंचने के लिए लोगों ने पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल किया था। ऐसे में एक-दूसरे से सम्पर्क में आने से लोगों के संक्रमित होने की आशंका जताई जा रही है।

सैनिटाइजर और मास्क बनाने में जुटी रेल फैक्ट्रियां, कोच को आइसोलेशन वार्ड में होंगे तब्दील

बर्गामो शहर की आबादी तकरीबन एक लाख बीस हजार है। वहीं दिन 40 हजार लोग सैन सीरो स्टेडियम में मौजूद थे। अटलांटा के लिए वह ऐतिहासिक मैच था। तभी बड़ी संख्या में फैन्स पहुंचे थे। मेरी पत्नी को भी मिलान पहुंचने में तीन घंटे लगे थे, जबकि सामान्य तौर पर यह सफऱ 40 मिनट का है।

मैच के बाद वेलेंसिया टीम के 35 फीसदी खिलाड़ी और स्टाफ भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे। टीम मैनेजमेंट भी इसे मिलान में हुए मैच से ही जोड़कर देख रहा है। इस बारे में सुनकर अटलांटा टीम के कप्तान एलेग्जेंड्रो गोमेज ने कहा कि यह वाकई हम सभी के लिए डराने वाली घटना है।

coronavirus COVID-19
Piyush Jayjan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned