बेंगलुरु में पांच बच्चे बनें एक दिन के कमिश्नर, कुर्सी पर बैठ सबको दिया आर्डर

बेंगलुरु में पांच बच्चे बनें एक दिन के कमिश्नर, कुर्सी पर बैठ सबको दिया आर्डर

Soma Roy | Updated: 11 Sep 2019, 11:08:45 AM (IST) हॉट ऑन वेब

  • Bengaluru Commissioner : गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं बच्चे, हौंसला बढ़ाने को उठाया गया कदम
  • बेंगलुरु के कमिश्नर भास्कर राव ने बच्चों को दिया चार्ज

नई दिल्ली। आम जनता के सामने पुलिस की छवि सुधारने साथ ही दूसरों के चेहरे पर मुस्कान लाने के लिए बेंगलुरु पुलिस ने अनोखी पहल की है। इसके तहत गंभीर रूप से पीड़ित पांच बच्चों को एक दिन के लिए कमिश्नर बनाया गया। उन्हें पुलिस की वर्दी पहनाए जाने के साथ उन्हें कार्यालय में चेअर पर बिठाया गया। इतना ही नहीं उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर से सम्मानित भी किया गया।

ये 5 बच्चे गंभीर बीमारियों से पीड़ित हैं। इनमें से एक बच्चे का नाम मोहम्मद साहिब है। उसकी उम्र 11 साल की है। वह ब्ल्ड कैंसर का शिकार है। इसी तरह 8 साल के रुतन कुमार की किडनी फ़ेल हो चुकी है। 8 साल के पाशा भी गंभीर बीमारी से ग्रस्त है। साथ ही 8 साल की श्रावनी को Thalassemia है और 4 साल के सैयद ईमान को ब्ल्ड प्रेशर समेत एक विचित्र बीमारी है।

commisioner.jpg

ऐसे बच्चों का हौंसला बढ़ाने और बीमारी से उनका डटकर मुकाबला करने के लिए उन्हें एक दिन के कमिश्नर बनाया गया। इसके लिए बेंगलुरु के कमिश्नर भास्कर राव ने ने खुद पांचों बच्चों को चार्ज दिया। इतना ही नहीं उन्हें उनकी कुर्सी पर बिठाया भी। साथ ही उनसे नकली कागजों पर साइन कराकर उन्हें कमिश्नर बनने का एहसास भी दिलाया। बेंगलुरु पुलिस के इस उम्दा काम की सोशल मीडिया पर काफी चर्चा हो रही है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned