पत्नी की परेशानी देख पहाड़ पर खोदा 25 फीट गहरा कुंआ, आज सारे गांव को नाज है

यह कहानी है झारखंड के खूंटी जिले के 25 वर्षीय चाडा पहान और उनकी पत्नी इमोन की।

By: सुनील शर्मा

Published: 28 Dec 2020, 08:07 PM IST

माउंटेन मैन दशरथ मांझी की कहानी तो हम सभी ने सुनी है, लेकिन न जाने ऐसे कितने ही दशरथ मांझी इस दुनिया में हैं जिन्होंने अपने जीवनसाथी के प्रेम में असंभव को भी संभव कर दिखाया। ऐसी ही एक कहानी है झारखंड के खूंटी जिले के 25 वर्षीय चाडा पहान और उनकी पत्नी इमोन की। इमोन को रोज 2 किलोमीटर चल कर दूर से पानी लाना होता था। एक दिन वह बीमार पड़ गई और उनके लिए पानी लाना मुश्किल हो गया। तब उनके पति चाडा पहान ने तय किया कि वह घर के पास ही पानी की व्यवस्था करेंगे।

Atal Pension Yojana : हर महीने महज 42 रुपए की बचत से पा सकते हैं जिंदगीभर पेंशन

Coronavirus Crisis में फीका रहेगा नए साल का जश्न, इस राज्य में सरकार ने लिया बड़ा फैसला

इसके बाद वह अपने घर के आसपास पानी ढूंढने लगे। एक दिन उन्होंने घर के पास की पहाड़ी की चट्टान से पानी टपकते देखा और उसे देखकर उनके मन में विचार आया कि क्यों न इसी जगह पर एक कुंआ खोदा जाए तो सभी गांव वालों के लिए पानी का स्रोत बन जाए।

अकेले की खुदाई और खोद दिया कुंआ
विचार मन में आते ही चाडा ने काम शुरू कर दिया और एक वर्ष से भी कम समय में उस पहाड़ी पर 25 फीट गहरा कुंआ खोद दिया। यही नहीं, उन्होंने बाकायदा पाइपलाइन बिछा कर उस कुएं से अपने गांव तक के लिए पानी लाने की व्यवस्था भी कर दी। यह कुआं उनके घर से मात्र 500 मीटर की दूरी पर है। आज उनकी इस मेहनत की बदौलत गांव के 50 से अधिक परिवारों के लिए पानी की स्थाई व्यवस्था हो गई हैं। उनकी पत्नी ने भी चाडा की इस कामयाब मुहिम पर खुशी जताते हुए कहा कि अब उन्हें और गांव की औरतों को पानी भरने के लिए इतनी दूर नहीं जाना पड़ेगा।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned