लॉकडाउन : घर खर्च में नहीं आएगी दिक्कत, सैलरी अकाउंट में पा सकते हैं तीन गुना तक रकम

  • Overdraft Facility Process : सैलरी या करंट अकाउंट होने पर ओवरड्राफ्ट की सुविधा आसानी से मिल सकती है
  • सुविधाओं का लाभ लेने के लिए ग्राहक का क्रेडिट स्कोर और अकाउंट में नियमित ट्रांजेक्शन होना चाहिए

By: Soma Roy

Published: 23 Apr 2020, 03:55 PM IST

नई दिल्ली। लॉकडाउन (Lockdown 2) के चलते कई लोगों के सामने घर चलाने की दिक्कत आ गई है। क्योंकि कंपनियां अपने कर्मचारियों को आधी सैलरी दे रही है। तो वहीं कई जगह तो वेतन ही काट लिया गया है। ऐसे में लोगों की जमापूंजी (Savings) भी खत्म होने लगी है। ऐसे में अगर आप बजट की चिंता में डूब हैं तो परेशान न हो। क्योंकि आप ओरड्राफ्ट (Overdraft) की सुविधा ले सकते हैं। इससे आपको सैलरी अकाउंट में तीन गुणा तक रकम मिल सकती है। हालांकि इसके लिए कुछ बातों का आपको ध्यान रखना होगा।

1.ज्यादातर बैंक करंट अकाउंट, सैलरी अकाउंट और फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) पर ओवर ड्राफ्टिंग की सुविधा दे रही है। इसके तहत बैंक से अपनी जरूरत के हिसाब से पैसा ले सकते हैं। अच्छी बात यह है कि इसमें लोन से कम इंट्रेस्ट चार्ज होता है।

2.रिजर्व बैंक के नियमों के अनुसार ग्राहक करेंट अकाउंट और कैश क्रेडिट अकाउंट पर 50000 रुपये प्रति सप्ताह तक ओवरड्राफ्ट ले सकते हैं।

3.जिन लोगों का बैंक में सैलरी या करंट अकाउंट है उन्हें ओवरड्राफ्ट की सुविधा आसानी से मिल सकती है। क्योंकि इसमें रेगुलर ट्रांजेक्शन होते हैं। वहीं अगर आप एफडी पर यह सुविधा लेना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कोई ऐसेट गिरवी रखना होगा।

4.सैलरी अकाउंट में आप आधे से तीन गुणा तक रकम हासिल कर सकते हैं। इसके लिए बैंक आपका केडिट स्कोर और पिछले 6 महीने के ट्रांजेक्शन की जांच करेगी।

5.ओवरड्राफ्ट की सुसविधा ग्राहकों के अकाउंट वैल्यू और उनकी अकाउंट हिस्ट्री के आधार पर दी जाती है। इसमें आपका क्रेडिट स्कोर और रिपेमेंट हिस्ट्री भी शामिल होगा।

6.जनधन खाते में भी ग्राहक 5000 रुपए तक की ओवरड्राफ्ट की सुविधा पा सकते हैं। हालांकि इसके लिए आपके अकाउंट में लेन-देन हुआ है या नहीं इसकी जांच की जाएगी।

7.ओवरड्राफ्ट की सुविधा आप जितने दिनों के लिए लेना चाहते हैं आप ले सकते हैं। जबकि पर्सनल लोन में इसकी तय सीमा होती है। इसका दूसरा फायदा यह है कि इसमें आपको किसी तरह का अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ेगा।

Show More
Soma Roy
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned