Zoom पर ऑनलाइन क्लास के बीच अचानक चल पड़ा बच्चों का अश्लील वीडियो, मचा हड़कंप

-कोरोना वायरस ( Coronavirus ) के चलते तमाम देशों में लॉकडाउन ( Lockdown ) किया हुआ है।
-अमेरिका के कैलिफोर्निया ( California ) में एक चर्च द्वारा Zoom ऐप के जरिए बाइबिल की ऑनलाइन क्लास ( Online Classes ) लगाई गई थी।
-Zoom App Hack: इसी बीच हैकर्स ने क्लास को हैक कर स्क्रीन पर अश्लील वीडियो ( Porn Video ) चला दिया।

By: Naveen

Updated: 16 May 2020, 04:24 PM IST

कोरोना वायरस ( coronavirus ) के चलते तमाम देशों में लॉकडाउन ( Lockdown ) किया हुआ है। ऐसे में Zoom ऐप के जरिए बच्चों की पढ़ाई, वर्क फ्रॉम होम में मीटिंग आदि का प्रचलन तेजी से बढ़ा है। लेकिन, इसी बीच अमेरिका से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है।

अमेरिका के कैलिफोर्निया ( California ) में एक चर्च द्वारा Zoom ऐप के जरिए बाइबिल की ऑनलाइन क्लास ( Online Classes ) लगाई गई थी। इसी बीच हैकर्स ने क्लास को हैक कर स्क्रीन पर अश्लील वीडियो ( Porn Video ) चला दिया। हैकर्स ने सभी के ऐप से बंद करने वाला ऑप्शन भी हटा दिया। इस कारण कोई उसे बंद भी नहीं कर सका। बाद में क्लास को बीच में ही बंद करना पड़ा। अब चर्च की ओर Zoom ऐप पर कानूनी मुकदमा दायर किया है।

वैज्ञानिकों का नया खुलासा, ठीक होने की बावजूद भी मरीजों को नहीं मिलेगी Corona से छुटकारा, लंबे वक्त तक रहेगी दिक्कत

Zoom App hack: मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, घटना 6 मई की है। सैन फ्रांसिस्को में सबसे पुराना सैंट पॉल लूथरन चर्च बाइबिल की ऑनलाइन क्लास दे रहा था। सभी को जूम ऐप के जरिए बाइबिल पढ़ाई जा रही थी। इसी बीच हैकर्स ने घुसपैठ करते हुए पॉर्न फिल्म चला दी। क्लास में कई बुजुर्ग लोग भी शामिल थे। उस दौरान हैकर्स ने जूम बॉम्बिंग कर अश्लील वीडियो चला दिया। लोग उसे बंद भी नहीं कर सके क्योंकि पूरा कंट्रोल हैकर्स के पास था।

घटना के बाद चर्च ने जूम ऐप के खिलाफ केस दर्ज कराया है। मुकदमे में लिखा, वीडियो बेहद ही घिनौने थे। जिसमें बच्चों के साथ यौन शोषण किया जा रहा था। जूम ऐप ने भी इसी बात को स्वीकारा है कि क्लास के दौरान ऐप को हैक कर लिया गया था। उसके पास हैकर की जानकारी है, जिसे वह पहले ही पुलिस प्रशासन को दे चुका है।

बता दें कि लॉकडाउन के बाद ही जूम ऐप की लोकप्रियता बढ़ी है। लेकिन, इसकी सुरक्षा पर कई तरह के सवाल उठ रहे है। भारत में भी इसका इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ( Ministry of Home Affairs ) ने इसको लेकर पहले ही एडवाइज़री जारी कर दी थी कि ये ऐप सुरक्षित नहीं है।

coronavirus
Show More
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned