scriptMan's tongue mysteriously turns black and hairy after stroke | अजीब बीमारी! जीभ पर उग आए 'काले बाल', 2 महीने से नहीं खा पा रहा खाना | Patrika News

अजीब बीमारी! जीभ पर उग आए 'काले बाल', 2 महीने से नहीं खा पा रहा खाना

स्वास्थ्य से जुड़ी कुछ बीमारियों के बारे में अधिकतर लोग जानते हैं। वहीं कुछ विचित्र बीमारियों के बारे में पढ़ने और सुनने को मिलता है। इन अनोखी बीमारी के बारे कई बार खुद डॉक्टर भी हैरान हो जाते है। केरल में एक ऐसा ही मामला सामने आया है। यहां स्ट्रोक से पीड़ित एक व्यक्ति की जीभ में अचानक 'काले बाल' उगने लगे।

नई दिल्ली

Published: March 11, 2022 01:40:35 pm

आज विज्ञान ने बहुत तरक्की कर ली है। इसके बावजूद कुछ चीजें ऐसी भी है जो अभी तक अनसुलझी पहेली बनी हुई है। वैज्ञानिक रोजाना नए नए शोध का हर समस्याओं का निवारण करने की कोशिश कर रहे हैं। लेकिन आए दिन नई नई बीमारियां दुनिया भर में फैलती जा रही है। इनमें से कई बीमारियां ऐसी भी जिनके बारे में पहले कभी नहीं सुना गया। वहीं कुछ ऐसी भी है जिनके बारे में जानकर डॉक्टर खुद हैरान है। एक ऐसा ही अनोखा मामला केरल से सामने आया है। यहां पर एक व्यक्ति एक जीभ पर अचानक काले बाल उगने लग है।

lingua villosa nigra
lingua villosa nigra

जीभ पर जम गई डेड स्किन और बैक्टीरिया की परत
एक रिपोर्ट के अनुसार, एक 50 वर्षीय व्यक्ति स्ट्रोक से पीड़ित है। वह पिछले कुछ दिनों से कुछ खास तरह की डाइट ले रहा था। दो महीने के बाद अचानक उसमें कुछ बदलाव महसूस किया। उसकी जीभ पर डेड स्किन और बैक्टीरिया की एक मोटी परत जम गई। उसकी जीभ पर बाल उगने लग गए।

यह भी पढ़ें

'प्रेग्नेंट संतरे' का वीडियो वायरल, अंदर का नजारा देखकर लोग हैरान




जीभ पर उगने लगे बाले बाल
दरअसल, स्ट्रोक के बाद उसकी बाईं ओर लकवा मार गया। इसके बाद उसे चबाने में भी बहुत परेशानी होने लगी। उसको शुद्ध भोजन और तरल पदार्थ खिलाए जा लगा। वह मौखिक एंटीप्लेटलेट और एंटीहाइपरटेन्सिव ले रहे थे। थोड़े दिनों बाद अचानक उसकी जीभ पर काले-पीले धब्बे बन गए थे।

यह भी पढ़ें

लड़की मेले में बेच रही थी गुब्बारे, फोटोग्राफर ने यूं बदल दी जिंदगी!




खाना खाने में होने लगी परेशानी
स्ट्रोक से पीड़ित व्यक्ति अपनी जीभ को लेकर काफी परेशान होने लगा। धीरे धीरे उसको खाना खाने में दिक्कत आने लगी। जब उसको भोजन चबाने और निगलने में परेशानी बढ़ी तो अस्पताल ले जाया गया। डॉक्टरों ने देखा कि उसकी भज में काले पीले धब्बे पड़ गए। करीब 20 दिन तक अच्छी साफ सफाई करने के बाद ये धब्बे साफ हुए।

क्या कहती है मेडिकल भाषा
जीभ पर काले-पीले धब्बे बनना ओर बाल उगने की समस्या को मेडिकल भाषा में लिंगुआ विलासा नाइग्रा (lingua villosa nigra) कहा जाता है। ऐसा माना जाता है कि यह समस्या अक्सर खराब मौखिक स्वच्छता के कारण होती है, लेकिन यह उन लोगों में देखा गया है जो ज्यादातर नरम खाद्य पदार्थ खाते हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

IPL 2022 MI vs SRH Live Updates : रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद ने मुंबई को 3 रनों से हरायामुस्लिम पक्षकार क्यों चाहते हैं 1991 एक्ट को लागू कराना, क्या कनेक्शन है काशी की ज्ञानवापी मस्जिद और शिवलिंग...जम्मू कश्मीर के बारामूला में आतंकवादियों ने शराब की दुकान पर फेंका ग्रेनेड,3 घायल, 1 की मौतमॉब लिंचिंग : भीड़ ने युवक को पुलिस के सामने पीट पीटकर मार डाला, दूसरी पत्नी से मिलने पहुंचा थादिल्ली के अशोक विहार के बैंक्वेट हॉल में लगी आग, 10 दमकल मौके पर मौजूदभारत में पेट्रोल अमेरिका, चीन, पाकिस्तान और श्रीलंका से भी महंगाकर्नाटक के राज्यपाल ने धर्मांतरण विरोधी विधेयक को दी मंजूरी, इस कानून को लागू करने वाला 9वां राज्य बनाSwayamvar Mika Di Vohti : सिंगर मीका का जोधपुर में हो रहा स्वयंवर, भाई दिलर मेहंदी व कॉमेडियन कपिल शर्मा सहित कई सितारे आए
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.