मच्छर के काटने से गुब्बारे जैसा फूल गया पैर, स्कूल छूट गया और टूट गए सारे सपनें

अक्सर देखा जाता है कि लोग छोटी-छोटी बीमारियां को नजरअंदाज कर देते है। कई बार ये यह छोटी सी बात आगे जाकर बहुत भारी पड़ती है। इसलिए कई लोग ऐसा भी कहते है कि छोटी से छोटी बीमारी को डॉक्टर को दिखाना चाहिए और उसका इलाज करवाना चाहिए।

By: Shaitan Prajapat

Published: 09 Oct 2020, 05:18 PM IST

अक्सर देखा जाता है कि लोग छोटी-छोटी बीमारियां को नजरअंदाज कर देते है। कई बार ये यह छोटी सी बात आगे जाकर बहुत भारी पड़ती है। इसलिए कई लोग ऐसा भी कहते है कि छोटी से छोटी बीमारी को डॉक्टर को दिखाना चाहिए और उसका इलाज करवाना चाहिए। नहीं तो भविष्य में यह बहुत बड़ी परेशानी बन जाती है। कुछ ऐसा ही हुआ कम्बोडिया के लड़के के साथ। इसको बचपन में एक बार मच्छर ने काट लिया था। इसके लिए उसका पैर सामान्य से पांच गुना ज्यादा सूज गया। आज उनको चलने और फिरने में काफी परेशानी हो रही है।

यह भी पढ़े :— इस आइलैंड पर आज भी रहती हैं शैतानी ताकतें और जलपरियां, यहां साल में सिर्फ एक दिन जाने की इजाजत

Bong Chet

20 साल पहले काटा था मच्छर ने
एक रिपोर्ट के अनुसार, कम्बोडिया के 27 साल के बोंग चेट (Bong Chet) को 20 साल पहले एक मच्छर ने काट लिया था। इसके बाद इंफेक्शन के कारण उसका पैर गुब्बारे की तरह फूल गया। ऐसा कहा जाता है कि इसकी शुरुआत तब हुई जब बोंग 6 साल का था। उस समय उनके पैर पर खरोंच आ गई थी। जिसे देखकर उनके माता-पिता ने सोचा कि बाहर खेलने के दौरान लग गइ होगी। उसके बाद से उसका पैर लगातार फूलता ही गया। 12 साल की उम्र में बोंग का पैर सूजकर बहुत मोटा हो गया।


यह भी पढ़े :— दुनिया की अनोखी घड़ी जिसमे कभी नहीं बजते 12, सदियों पुरानी कहानी से जुड़ा है ये रहस्य

मजदूरी करते है माता-पिता
बोंग चेट के माता-पिता फैक्ट्री में मजदूरी करते हैं। उनके पास इतना पैसा नहीं था कि वो बेटे का इलाज करवा सकें। मजदूरी करने के बावजूद उन्होंने अपने स्तर पर हर संभव प्रयास किया है। बेटे का पैर लगातार सूजता ही गया, जिसके कारण उसका स्कूल जाना भी बंद हो गया। बोंग का सपना है कि फुटबॉलर बने, लेकिन किस्मत उसका साथ नहीं रही है।

यह भी पढ़े :— चार टांगों वाली अनोखी महिला, जिसने पूरी दुनिया को चौंकाया

Bong Chet

मदद के लिए आगे आया कपल
एक कपल ने बोंग की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया है। उन्होंने बोंग को इलाज के लिए करीब 2,500 डॉलर (1.82 लाख रुपये) दिए। जांच में डॉक्टरों ने पाया कि बोंग दुर्लभ बीमारी Lymphatic Filariasis से पीड़ित हैं। जो सूक्ष्म कीड़े के कारण होती है। यह कीड़े मच्छर के काटने से शरीर में दाखिल होते हैं। डॉक्टर का कहना है कि बोंग बचपन में मच्छर के काटने से आई खरोंच से इस कीड़े के संपर्क में आए होंगे। इसके बाद से उसके पैर की यह हालत हो गई है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned