10वीं पास को 5 वर्ष तक मिलेगी स्कॉलरशिप्स, जानिए पूरी डिटेल्स

11वीं और 12वीं कक्षा के लिए 1250 रुपए प्रतिमाह तथा ग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट विद्यार्थियों को 2000 रुपए प्रतिमाह की स्कॉलरशिप दी जाती है।

By: सुनील शर्मा

Published: 13 Nov 2020, 07:57 AM IST

देश में बेरोजगारी और आर्थिक हालातों के चलते गरीब तबका शिक्षा से वंचित रह जाता है। ऐसे लोगो समय पर पैसा न होने के कारण बच्चों की पढाई बीच में ही छुड़वा देते हैं।

ऐसे में दसवीं कक्षा की परीक्षा के बाद क्या करें, किस स्ट्रीम का चुनाव करें, क्या किसी प्रोफेशनल कोर्स को चयन करना चाहिए या फिर ट्रेडिशनल विकल्पों की तरफ ही अपने आप को केन्द्रित करना चाहिए आदि ऐसे कुछ सवाल हैं जो हर दसवीं कक्षा पास करने वाले विद्यार्थियों के दिमाग में उठते हैं।

दुर्गा सप्तशती के ये 13 मंत्र पूरी करेंगे आपकी हर मनोकामना, जानिए कैसे प्रयोग करना है

Coffee से जुड़े ये वर्ड्स सीख कर दूसरों को फटाफट कर सकते हैं इम्प्रेस

ऐसे में स्टूडेंट्स को सरकार द्वारा दी जाने वाली स्कॉलरशिप्स का सहारा ले सकते हैं। नेशनल टेलेंट सर्च परीक्षा (NTSE) एक राष्ट्रीय स्तर का छात्रवृत्ति कार्यक्रम हैं। इसके तहत 11 वीं से लेकर पीएचडी तक के स्टूडेंट्स इस स्कॉलरशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं। कुल एक हजार से ज्यादा स्टूडेंट्स को इस स्कॉलरशिप का लाभ मिलता है।

माध्यमिक विद्यालय स्तर पर नेशनल काउंसिल ऑफ एजुकेशनल रिसर्च एंड ट्रेनिंग (NCERT) भी एक परीक्षा आयोजित करता है। इसका उद्देश्य पढ़ाई में अच्छे बच्चों को स्कॉलरशिप देना होता है। 11वीं और 12वीं कक्षा के लिए 1250 रुपए प्रतिमाह तथा ग्रेजुएट और पोस्टग्रेजुएट विद्यार्थियों को 2000 रुपए प्रतिमाह की स्कॉलरशिप दी जाती है।

एनटीएसई स्कॉलरशिप के लिए पात्रता
इस परीक्षा में 10वीं कक्षा का विद्यार्थी ही बैठने का पात्र है। इस परीक्षा को पास करने वाले विद्यार्थियों को 11वीं कक्षा से ही स्कॉलरशिप मिलने लगती है जो उनकी पढ़ाई पूरी होने तक मिलती रहेगी। इससे संबंधित अधिक जानकारी के लिए आधिकारिक वेबसाइट www.ncert.nic.in पर देख सकते हैं।

सुनील शर्मा
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned