कोरोना: अस्पताल में पहले मरीज के आते ही मच गई थी हड़बड़ी, नर्स ने बताई पूरी कहानी

कोरोना वायरस का प्रकोप भारत में भी बढ़ता जा रहा है। देश में कोरोना वायरस का आंकड़ा 1251 पर पहुंच गया है।

By: Vivhav Shukla

Published: 31 Mar 2020, 05:19 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना वायरस (coronavirus) ने पूरे भारत में फैल चुका है। हर तरफ हाहाकार मचा हुआ है। रेल, बस सब कुछ बंद है। इतना ही नहीं सरकार ने 14 अप्रैल तक का लॉकडाउन (Lockdown )लगा दिया है। लेकिन मेडिकल टीम इस लॉकडाउन में भी दिन रात काम कर रही है। आज हम आपको ऐसे ही एक नर्स के बारे में बताने जा रहे हैं जो इस भयावह वायरस से डरे बिना लोगों की मदद कर रही है।

कोरोना: भूख से तड़प रहा था बच्चा, शख्स ने दिया खाना तो चिल्लाकर बोला- 'मां खाना मिल गया’

'ह्यूमन्स ऑफ बॉम्बे' (Humans of Bombay) नाम के फेसबुक पेज से बात करते हुए नर्स ने बताया कि जब मुझे पता कि मेरी ड्यूटी कोरोना वायरस के मरीजों की देखभाल के लिए लगी है तो मैं घबरा गई थी।मेरी बेटी तो रोने लगी वो रोते हुए कहने लगी की मां आप प्लीज ड्यूटी पर मत जाओ। फिर अगले दिन हॉस्पिटल से मुझे फोन आया। फोन आने के बाद से ही मैंने खुद को दिमागी रूप से तैयार कर लिया था। इसके बाद मैं ड्यूटी पर चली गई। मेरे काम पर जाने के बाद मेरे पति ने घर संभाल लिया।

कोरोना वायरस के इन नए लक्षणों ने उड़ाई वैज्ञानिकों की नींद, साल 2020 में मचेगी तबाही!

उन्होंने बताया कि जब मैं ड्यूटी पर से वापस घर आती थी तो दिक्कतों का सामना करना पड़ता था। मैं पब्लिक ट्रांसपोर्ट यूज नहीं करती थी। मेरे पति ही मुझे हॉस्पिटल में छोड़ने और लेने आते थे । लेकिन इस बात से मैं डरी हुई थी कि कहीं मेरी वजह से उन्हें और मेरी बेटी को भी कोरोना ना हो जाए।

कोरोना: लॉकडाउन में शख्स ने अकेले खेला क्रिकेट, खुद बॉलिंग कर खुद ही करने लगा बैटिंग

इसलिए हम सभी नर्सों ने हॉस्पिटल में रूकने का फैसला कर लिया। हॉस्पिटल एक 'वॉर जोन’ की तरह लग रहा था। नर्स बताती हैं कि जब अस्पताल में कोरोनावायरस का पहला केस आया था कोहराम मच गया था। यहां तक की मरीज खुद भी घबरा गया था। इस पूरे माहौल में बिल्कुल 'वार जोन' वाली फिलिंग आ रही थी।

कोरोना की वजह से नहीं मन सकी बच्ची की बर्थडे पार्टी, पुलिसवालों ने यूं किया खुश

नर्स आगे बताती हैं कि जब भी कोई शख्स हॉस्पिटल में अपने कोरोनावायरस के टेस्ट करवाने आता है और टेस्ट नेगेटिव आता है तब मरीज के साथ-साथ पूरे स्टाफ की खुशी देखने लायक होती है। बता दें महाराष्ट्र में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा केस सामने आए हैं। यहां कोरोना के 231 मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र में कोरोना वायरस से अब तक 8 लोगों की मौत हो चुकी है।

Vivhav Shukla
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned