पत्नी को सेक्स स्लेव बनने से बचाने के लिए पति करते थे ये काम, चेहरा देखकर हो जाती है नफरत

टैटू बनवाने के बाद महिला के चेहरे से खून भी निकलता है।
यह परंपरा वर्षों से इस जनजाति में प्रचलित है।

By: Shaitan Prajapat

Updated: 21 Jan 2021, 12:51 PM IST

नई दिल्ली। दुनिया का हर पति चाहता है कि उसकी पत्नी सबसे खूबसूरत हो। सभी महिलाए सुंदर दिखने के लिए कई प्रकार ब्यूटी कॉस्मेटिक का उपयोग करती है। कुछ महिलाए तो ऐसी है जो खुद को लाखों रुपए खर्च करती है। लेकिन इस दुनिया में एक जनजाति ऐसी भी जो अपने पत्नी का चेहरा खराब करती है। यह पढ़ने में भले ही आपको अजीब लेगे लेकिन यह बिल्कुल सच है। एक रिपोर्ट के अनुसार चीन के लोग और म्यांमार की मनु जनजाति के ऐसा करत है। ये लोग अपनी ही पत्नियों के चेहरे पर गंदा टैटू बनावाते है। यह अनोखी प्रथा सालों से चली आ रही है।

चेहरे पर हो जाते थे घाव
एक रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं के चेहरे पर टैटू पारंपरिक रूप से बनाया जाता है। खास बात यह है कि इसमें किसी भी रंग का इस्तेमाल नहीं किया जाता है। आपको यह जानकर हैरानी होगी कि ये टैटू जंगली पोधों से बनाए जाते है। पुरुष इन टैटू को पिंपल्स और गाय की चर्बी से बाहर निकालते है। इसके पिछले कारण यह बताया है कि लोग किसी महिला का चेहरा देकखर मोहित ना होकर नफरत करे। टैटू बनवाते समय कई बार संक्रमण भी हो जाता है। कई बार चेहरे पर घाव भी हो जाते है। फिर इनसे खून भी आने लगते है। इसके बाद उनका चेहरा बदसूरत हो जाता है।

यह भी पढ़े :— इस बंदे के पास 1497 क्रेडिट कार्ड, गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड में दर्ज है नाम

राजा बनाता था सेक्स स्लेव
यह अनोखी परंपरा सदियों से चली आ रही है। इसका मुख्य कारण मन में पत्नी का संरक्षण बताया गया है। स्थानीय लोगों के अनुसार एक बर्बर राजा बारिश से पहले इन क्षेत्र में आता था। जनजाति की खूबसूरत महिलाओं को उठा ले जाता और उन्हें सेक्स स्लेव बना देता है। राजा की नजर से अपनी पत्नी को बचाने के लिए पति को मजबूरी में उसका चेहरा बर्बाद करना पड़ता था। पहले तो यह लोग राजा से अपनी पत्नी को बचाने के लिए ऐसा करते थे। तब से यह परंपरा आज भी चलती आ रही है।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned