फेक अलर्ट: पूर्व आर्मी ऑफिसर पर नहीं बरसाई पुलिस ने लाठियां, अलवर का है असली वीडियो

  • वायरल हो रही है ये वीडियो

By: Prakash Chand Joshi

Published: 05 Sep 2019, 05:26 PM IST

नई दिल्ली: देश भर में 1 सितंबर से नए ट्रैफिक नियम लागू कर दिए गए हैं। इस नियम के अंतर्गत जैसे बिना हेलमेट, बिना कागज, रेड लाइट जंप आदि चीजों के चालान का दाम बढ़ा दिया गया है। ऐसे में कुछ लोग इसका विरोध कर रहे हैं, तो कोई इसे सही भी ठहरा रहा है। लेकिन इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफी वायरल हो रहा है।

 

 

 

 

क्या है वायरल वीडियो में

दरअसल, फेसबुक यूजर 'अभिषेख मिश्र' नाम के यूजर ने एक वीडियो शेयर किया। इस वीडियो में पुलिस एक बुजुर्ग समेत लोगों पर लाठियां बरसा रही है। इस वीडियो के कैप्शन में लिखा गया 'अगर आपने हेलमेट नहीं लगाया तो इन पुलिसवालों को मारने का अधिकार किसने दिया, रिटायर्ड सेना के अधिकारी को भी बेइज्जत कर दिया। ये वर्दी वाले गुंडे कानून का राज लाएंगे।'

viral.jpg

सच जानना जरूरी है

जिस वीडियो को हाल का बताया जा रहा है वो वीडियो 28 अगस्त का है। जब राजस्थान के अलवर के एक कॉलेज में हुए छात्रसंघ चुनाव के दौरान का है। दरअसल, इस दौरान वोटों की गिनती में धांधली को लेकर छात्र आक्रोशित हो गए थे और पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज किया था। जब हमने इस वीडियो की पड़ताल की तो हमें फेसबुक एक और बिल्कुल ऐसा ही वीडियो मिला, जिसे 29 अगस्त 2019 को पोस्ट किया गया था। साथ ही वी डियो में काले रंग की कमीज पहने हुए सुरक्षाकर्मी की कमीज पर Q.R.T Alwar लिखा हुआ है, जो कि बताता है कि ये वीडियो अलवर का है। ऐसे में ये पता चलता है कि ये वीडियो अलवर का जिसे गलत तरीके से वायरल किया जा रहा है।

Prakash Chand Joshi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned