नेत्रहीन बच्चों के लिए बनाया गया स्पेशल दुर्गा पंडाल, 12000 नाखूनों से बनाई गई है मूर्ति

नेत्रहीन बच्चों के लिए बनाया गया स्पेशल दुर्गा पंडाल, 12000 नाखूनों से बनाई गई है मूर्ति

Shweta Dhobhal | Updated: 09 Oct 2019, 02:27:40 PM (IST) हॉट ऑन वेब

  • कोलकत्ता में दुर्गा पूजा की धूमधाम
  • नेत्रहीन बच्चों के लिए बनाया गया स्पेशल पंडाल
  • 12000 नाखूनों से बनाई गई मूर्ति

 

नई दिल्ली। हाल ही में देशभर में दुर्गा पूजा का त्यौहार मनाया गया। जैसा कि हम सब जानते हैं कि दुर्गा पूजा के दौरान देवी मां के बड़े-बड़े और सुंदर पांडल बनाए जाते हैं। कोलकत्ता में तो इस त्यौहार के दौरान गलियां से लेकर बड़े शहरों तक में इसकी बड़ी धूमधाम होती है। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि ये जो विशाल और खूबसूरत पंडाल हैं उन्हें केवल वही लोग देख सकते हैं जिनके पास भगवान ने आंखे दी हैं लेकिन हमारे बीच कुछ ऐसे लोग भी हैं जो किसी कारणवश अपनी आंखे खो बैठे हैं या तो फिर जन्म से ही अंधे हैं तो ये लोग कैसे माता के पांडल का दर्शन कर पाएंगे।

कोलकाता समाज के समाज सेवी संघ ने नेत्रहीन बच्चों के लिए एक स्पेशल पंडाल बनाया। जिसमेें बच्चे मूर्तियों को छूकर उन्हें महसूस कर सकते हैं। इन मूर्तियों को 12000 screws की एक मूर्ति बनाई गई है। इस मूर्ति पर एक श्लोक भी लिखा गया है जिसे बच्चे हाथों से छूकर आसानी से पढ़ सकते हैं।

durga_1.jpg

वहीं आयोजको ने कहा कि “हम इस विचार से बहुत आगे बढ़ गए थे कि हमने तुरंत इसे अंतिम रूप दिया। शुरुआत करने के लिए, हमने नरेंद्रपुर ब्लाइंड बॉयज़ अकादमी और वॉयस ऑफ वर्ल्ड के छात्रों के साथ बातचीत की और उनसे पूछा कि दुर्गा पूजा का क्या मतलब है। उनके विचारों, सपनों और भावनाओं को ध्यान में रखते हुए, हमने अपने पंडाल में एक काल्पनिक दुनिया बनाने की कोशिश की है।

dura_3.jpeg

आयोजकों ने नेत्रहीन स्कूलों के बच्चों को विशेष निमंत्रण दिया है, जिन्होंने पंडाल के पास पोडियम पर विभिन्न सांस्कृतिक प्रदर्शनों का मंचन किया है। उन्होंने उन छोटे-छोटे दिमागों को खुशी के फटने से भरने के लिए विशेष आश्चर्य का आयोजन किया है।

 

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned