इस छात्र के हर सब्जेक्ट में आएं 35-35 नंबर फिर भी घर वालों ने मनाया जश्न, कारण आपको हैरान कर देगा

इस छात्र के हर सब्जेक्ट में आएं 35-35 नंबर फिर भी घर वालों ने मनाया जश्न, कारण आपको हैरान कर देगा

Prakash Chand Joshi | Publish: Jun, 10 2019 12:02:57 PM (IST) हॉट ऑन वेब

  • बच्चे के पास होने से घर वाले काफी खुश हैं
  • बच्चे की रूचि इस चीज में है
  • बाकी माता-पिता के लिए उदाहरण हैं ये पैरेंट्स

नई दिल्ली: स्कूल में पढ़ने वाले बच्चे पहले तो पूरे साल मेहनत करते हैं और फिर अपनी साल भर की मेहनत का इंतजार रिजल्ट के रूप में करते हैं। लेकिन इस रिजल्ट की चिंता जहां बच्चों ( child ) को होती है तो उनसे भी ज्यादा उनके इस रिजल्ट की चिंता कहीं न कहीं उनके माता-पिता को भी होती है। ऐसे में अगर घरवालों को ज्यादा परसेंटेज की उम्मीद हो और बच्चे के नंबर कम आए, तो फिर क्या घर वाले नाराज होते हैं, गुस्सा करते हैं। साथ ही कई घरवाले तो बच्चों की पिटाई तक कर देते हैं, लेकिन एक बच्चे के जब 35 प्रतिशत नंबर आए तो उसके घर वालों ने गुस्सा करने की जगह जश्न मनाया।

 

mumbai

घर वाले काफी खुश हैं

शनिवार को महाराष्ट्र ( Maharashtra ) में माध्यमिक विद्यालय प्रमाणपत्र यानि एसएसजी के रिजल्ट जारी किए गए। वहीं मुंबई ( mumbai ) से सटे मीरा रोड में रहने वाले 16 साल के अक्षत जाधव को हर विषय में 35-35 नंबर मिले। हैरान मत होइए, हर विषय में बराबर अंक मिले हैं। वहीं उनके कम नंबरों से ही सही लेकिन पास होने से अक्षत के घर माता-पिता काफी खुश हैं। हालांकि, उनका कहना है कि उनको उम्मीद थी कि अंक 55 प्रतिशत आएंगे, लेकिन हम खुश हैं कि अक्षत पास हो गया।

mumbai

फुटबॉल में है खास रूचि

अक्षत की फुटबॉल ( football ) में खास रूचि है। वो इसी में अपना करियर बनाना चाहता है, जिसके लिए वो खूब मेहनत भी कर रहा है। यही नहीं अपने इस गेम के चक्कर में ही वो क्लास 9वीं में फेल हो गया था। हालांकि, बाद में अक्षत ने प्राइवेट से दसवीं का फॉर्म भरा और अब 35 प्रतिशत अंकों के साथ वो पास हो गया है। अक्षत के पास होने से उसके घर वालों समेत उसके दोस्त भी काफी खुश हैं। घर में जश्न का माहौल है। ऐसे में जहां अमूमन देखा गया है कि कुछ माता-पिता अपने बच्चों के नंबर कम आने पर उन पर गुस्सा करते हैं, तो वहीं अक्षत के माता-पिता ऐसे लोगों के लिए एक अच्छा उदाहरण है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned