खिड़की खोलने के चक्कर में चौथी मंजिल पर लटकी बच्ची, शख्स ने एेसे बचाई जान

खिड़की खोलने के चक्कर में चौथी मंजिल पर लटकी बच्ची, शख्स ने एेसे बचाई जान

Vinay Saxena | Publish: Sep, 10 2018 01:09:43 PM (IST) | Updated: Sep, 10 2018 01:21:33 PM (IST) हॉट ऑन वेब

सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें चौथी मंजिल पर लटकी एक बच्ची की दो लोगों ने अपनी जान पर खेलकर जान बचाई।

नई दिल्ली: सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें चौथी मंजिल पर लटकी एक बच्ची की दो लोगों ने अपनी जान पर खेलकर जान बचाई। यूजर्स बच्ची की जान बचाने वाले इन दोनों लोगों की जमकर तारीफ कर रहे हैं।

चौथी मंजिल पर लटकी थी बच्ची

जानकारी के मुताबिक, यह मामला सात सितंबर को चीन के चांगशू में हुआ था। ये शख्स बिल्डिंग के नीचे से गुजर रहे थे कि तभी उन्होंने देखा कि बच्ची बिल्डिंग की चौथी मंजिल पर लटकी हुई थी। उन्होंने बिना सोचे समझे उसको बचाने का फैसला लिया। घर पर बच्ची अकेली थी। घर पर वो सो रही थी, जैसे ही वो उठी तो खिड़की खोलने के चक्कर में गिर गई।

बच्ची के पिता ने किया शुक्रिया अदा

बच्ची के पिता ने जान बचाने वाले दोनों लोगों का शुक्रिया अदा करते हुए कहा कि मुझे पता है कि बिल्डिंग पर चढ़ना काफी खतरनाक है फिर भी इन्होंने मेरी बच्ची की जान बचाई, जिसके लिए मैं इन लोगों का हमेशा ऋणी रहूंगा।

'स्पाइडरमैन' ने बचायी थी बच्चे की जान

बता दें, इससे पहले पेरिस में एक एेसा ही वीडियो सामने आया था। एक शख्स स्पाइडरमैन की तरह बिल्डिंग पर चढ़कर एक बच्चे की जान बचाता है। वीडियो वायरल होने के बाद पेरिस की मेयर ने खुद इस शख्स की तारीफ की थी। माली के रहने वाले माकोउदोऊ गासामा ने बच्चे की हीरो की तरह जान बचायी थी। हर शख्स उन्हें स्पाइडर मैन कहकर बुलाने लगा। दरअसल, बिल्डिंग के नीचे से गुजर रहे गासामा ने जैसे ही बच्चे को लटका देखा तो वो बिल्डिंग पर चढ़ गया और जान बचाई। गासामा फ्रांस में सेटल होने आए थे। बच्चे की जान बचाने के बाद लोगों ने उसका काफी सपोर्ट किया है।

फ्रांस के प्रेसिडेंट आैर मेयर ने की थी तारीफ

फ्रांस के प्रेसिडेंट इमेन्युल मैक्रॉन ने भी गसामा को बुलाया था। पेरिस की मेयर एन हिडाल्डो ने हसामा की खूब तारीफ की। उन्होंने कहा- माकोउदोऊ गासामा को शुभकामनाएं, उन्होंने जान पर खेलकर बच्चे की जान बचाई। जिसके बाद मेयर ने उनसे फोन पर भी बात की। फोन पर मेयर से गसामा ने कहा कि वो माली से कुछ महीने पहले ही आया है और वो फ्रांस में ही रहना चाहता है। जिसके बाद मेयर ने पूरे सपोर्ट की बात की है।

 

Ad Block is Banned