क्या आप जानते है ​गैस सिलेंडर पर क्यों लिखते है ये नंबर, यहां समझे नंबरों का मतलब

आधुनिक सुविधाएं हमारे लिए जितनी लाभदायक है उतनी घातक भी है। इन सुविधाओं को उपयोग हमे जरूरत के अनुसार करना चाहिए। अगर इनका ज्यादा इस्तेमाल करते है तो यह खतरनाक साबित भी हो सकती है। गैस सिलेंडर का सभी के घरों इस्तेमाल होता है।

By: Shaitan Prajapat

Updated: 13 Nov 2020, 04:23 PM IST

नई दिल्ली। आधुनिक सुविधाएं हमारे लिए जितनी लाभदायक है उतनी घातक भी है। इन सुविधाओं को उपयोग हमे जरूरत के अनुसार करना चाहिए। अगर इनका ज्यादा इस्तेमाल करते है तो यह खतरनाक साबित भी हो सकती है। गैस सिलेंडर का सभी के घरों इस्तेमाल होता है। आज के समय में इसके बिना कुछ नहीं हो सकता है। गैस सिलेंडर से जुड़ी कई जानकारिया आज भी कई लोग नहीं जाते। हमें आए दिन सिलेंडर फटने की घटनाएं पढ़ने को मिलती है। इसलिए सभी को सर्तक रहना चाहिए। आज आपको सिलेंडर पर लिखा नंबरों के बारे में खास जानकारी देने जा रहे है।

रेगुलेटर के पास होती है तीन पट्टी
यह जानकारी बहुत कम लोग ही जानते है पर इसके बारे में सभी को पता होना चाहिए। गैस सिलेंडर पर लिखे एक विशेष कोड नम्बर की जो सिलेंडर के सबसे ऊपर रेगुलेटर के पास तीन पट्टी लगी होती है। आप को यह बता दें की इसका क्या सही अर्थ है। गैस कम्पनियां इस नम्बर को अंकित कर अपनी जिम्मेदारी निभाती है। गैस की टंकी पर A, B, C, D लिखा होता है। गैस की कंपनियां इन अल्फाबेट्स को बारह महीनों के हिसाब से चार भागों में बांट देती हैं।

 


यह भी पढ़े :— 600 फीट की ऊंचाई पर युवक ने किया खतरनाक स्टंट, आसमान में खोले सारे कपड़े, तस्वीरें वायरल

ऐसे करे टेस्टिंग
A- जनवरी से मार्च तक, B- अप्रैल से जून तक, C- जुलाई से सितंबर तक और D- अक्टूबर से दिसंबर तक होता है। यानी सिलेंडरों पर लिखा कोड या इन लेटर की सहायता से टेस्टिंग का महीना दर्शाता है। साथ ही आगे लिखा नंबर किस साल में टेस्टिंग होनी है, ईयर का होता है। उदाहरण के लिए B-17 का मतलब है कि गैस सिलेंडर अप्रैल से जून 2017 तक टेस्टिंग के लिए भेजा जाना चाहिए। गैस सिलेंडर का टेस्टिंग पीरियड अप्रैल से जून 2017 तक है। इसी प्रकार A-14 का मतलब है की गैस सिलेंडर का टेस्टिंग पीरियड जनवरी से मार्च 2014 तक है। इस डेट के बाद अगर गैस सिलेंडर का उपयोग किया जाता है तो सिलेंडर का वॉल्व लीक तो नहीं कर रहा है चेक करले और यदि लिया गया सिलेंडर की डेट पुरानी है तो उसको गैस एजेंसी में जाकर बदलवा सकते हैं।

Shaitan Prajapat
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned