इन्वेस्ट कर्नाटक हुब्बल्ली सम्मेलन में हुए 56 समझौतों पर हस्ताक्षर

इन्वेस्ट कर्नाटक हुब्बल्ली सम्मेलन में हुए 56 समझौतों पर हस्ताक्षर
-होगा 70 हजार करोड़ रुपए पूंजी निवेश
हुब्बल्ली

इन्वेस्ट कर्नाटक हुब्बल्ली सम्मेलन में हुए 56 समझौतों पर हस्ताक्षर
हुब्बल्ली
शहर के डेनिसन्स होटल परिसर में शुक्रवार को आयोजित इन्वेस्ट कर्नाटक हुब्बल्ली सम्मेलन-2020 में 56 समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए। इसके साथ ही इस भाग में 70 हजार करोड़ रुपए पूंजी निवेश होगी।
मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने कहा कि कर्नाटक देश के प्रमुख आईटी केंद्र के तौर पर जाना जाता है। साथ ही एयरोस्पेस, ऑटोमोबाइल, मशीन टूल्स, इलेक्ट्रिक वाहन और आधुनिक बायोटेक टेक्नोलॉजीज की राजधानी के तौर पर पहचाना जाता है। निवेश के लिए बेहद विपुल तथा सही माहौल है। उद्योगों के मंजूरी की प्रक्रिया को त्वरित तौर पर पूरा करने तथा राज्य को अधिक निवेश आकर्षित करने के लिए कर्नाटक भूमि सुधार कानून की धारा 109 में संशोधन लाया जा रहा है। हर भी प्रकार के उद्योग को आरम्भ करने वालों को अनुमति देने के लिए भूमि अधिग्रहण तथा भू परिवर्तन के लिए अब तक 60 दिनों के समय की जरूरत थी। इस अवधि को तीस दिन घटाया जा रहा है, अगर तीस दिन में मंजूरी नहीं देने पर डीम्ड अर्थात शुमार की गई मंजूरी तथा परिवर्तन में शुमार करने की व्यवस्था भी शामिल कर रहे हैं।
मुख्यमंत्री येडियूरप्पा ने कहा कि दूसरे तथा तीसरे स्तर के शहरों में उद्योग उत्थान के उद्देश्य से उत्तर कर्नाटक में विभिन्न क्षेत्रों में क्लस्टरों को स्थापित करने की प्रक्रिया प्रगति में है। खास तौर पर कोप्पल में हस्तकला खिलौनों का क्लस्टर, बल्लारी में टेक्सटाइल क्लस्टर, हुब्बल्ली में एफएमसीजी क्लस्टर, कलबुर्गी में सौर ऊर्जा सामानों का क्लस्टर तथा बीदर में कृषि उपकरणों का क्लस्टर खोला जा रहा है।
समारोह की अध्यक्षता कर उद्योग मंत्री जगदीश शेट्टर ने कहा कि सम्मेलन में भाग लिए उद्यमियों ने स्वयं प्रेरणा से लगभग 70 करोड़ रुपए पूंजी निवेश करने का फैसला लिया है। सम्मेलन में उम्मीद से बढ़कर सफलता मिली है। विभाग के वरिष्ठ अधिकारी तथा जिला प्रशासन के अधिकारियों ने दिन रात परिश्रम किया है। मीडिया ने भी सहयोग देकर नैतिक प्रोत्साहन दिया है।
कतेएलई तकनीकी विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. अशोक शेट्टर ने सम्मेलन की कार्यवाही की रिपोर्ट पेश की। उद्योग एवं वाणिज्य विभाग के मुख्य सचिव गौरव गुप्ता, उद्योग विकास आयुक्त गुंजन कुष्णा उपस्थित थे। जिलाधिकारी दीपा चोळन ने आभार जताया।

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned