भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के जाल में फंसा क्षेत्र शिक्षाधिकारी

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के जाल में फंसा क्षेत्र शिक्षाधिकारी
-निजी स्कूल अनुमति नवीनीकरण को मांगे थे दो हजार रुपए
हुब्बल्ली

By: Zakir Pattankudi

Published: 05 Sep 2019, 09:02 PM IST

भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो के जाल में फंसा क्षेत्र शिक्षाधिकारी
हुब्बल्ली
निजी स्कूल की अनुमति को नवीनीकरण करने के लिए रिश्वत लेते हुब्बल्ली ग्रामीण क्षेत्र के शिक्षाधिकारी एसएम हुडेदमनी व प्रथम श्रेणी सहायक बसवराज को भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) ने रंगे हाथों पकड़ लिया।
मैदार ओणी के ग्रामीण क्षेत्र शिक्षाधिकारी कार्यालय में इन दोनों ने नवनगर के एक निजी प्राथमिक स्कूल के अनुमति नवीनीकरण के लिए स्कूल की अध्यक्ष आशा कुलकर्णी से दो हजार रुपए रिश्वत ले रहे थे। इसी दौरान एसीबी पुलिस उपाधीक्षक विजयकुमार बिस्नल्ली के नेतृत्व का दस्ता छापा मार कर दोनों को रंगे हाथ धर दबोचा।
एसीबी पुलिस उपाधीक्षक विजयकुमार बिस्नल्ली ने बताया कि स्कूल अनुमति के नवीनीकरण के लिए बीईओ ने रुपए की मांग रखी थी। प्रथम श्रेणी सहायक बसवराज ने कुलकर्णी को फोन पर तीन वर्ष के नवीनीकरण के लिए दो हजार रुपए रिश्वत तय कर इसे बीईओ को पहुंचाने को कहा था। इस बारे में आशा कुलकर्णी ने एसीबी से शिकायत की थी। शिकायत के अनुसार एसीबी अधिकारियों ने समय निर्धारित कर राशि देने को आशा से कहा था। इसके तहत बुधवार शाम को रिश्वत लेते हुडेदमनी तथा बसवराज को एसीबी जाल में फंस गए। एसीबी दस्ता मामले की जांच कर रहा है। दोषियों को गुरुवार को अदालत में पेश किया।

आठ माह से देरी

स्कूल अनुमति नवीनीकरण करने के संबंध में हुडेदमनी तथा बसवराज ने आशा को आठ माह से सता रहे थे। बाद में रिश्वत की मांग रखी थी। इससे तंग आकर आशा ने एसीबी में शिकायत की थी।

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned