जिले में सभी के सहयोग से नियंत्रण में आ रहा है कोरोना संक्रमण

जिले में सभी के सहयोग से नियंत्रण में आ रहा है कोरोना संक्रमण

By: S F Munshi

Published: 20 May 2021, 08:09 PM IST

जिले में सभी के सहयोग से नियंत्रण में आ रहा है कोरोना संक्रमण
-जिलाधिकारी नितेश पाटील ने कहा
धारवाड़
जिलाधिकारी नितेश पाटील ने कहा है कि जिले में बड़े पैमाने पर फैलाकोरोना संक्रमण सभी के सहयोग से अब नियंत्रण में आ रहा है। प्रारंभ में 15 प्रतिशत तक मामले ग्रामीण क्षेत्र में थे। अन्य जिले के अप्रवासियों तथा विवाह सहित अन्य कार्यक्रमों की वजह से कोरोना संक्रमण मामले में बढ़ोत्तरी हुई। प्रधानमंत्री की सलाह के आधार पर जिले में कोरोनामुक्त गांव स्थापित करने का अभियान शुरू किया गया है। पंचायत सदस्यों तथा ग्रामीणों के सहयोग से अभियान को सफल बनाने की जिम्मेदारी कोरोना कार्यबल के सदस्यों की है।
जिलाधिकारी जिला पंचायत की मुख्य सचिव डॉ. बी सुशीला के नेतृत्व में जिले के
तहसीलदार, तालुक पंचायत ईओ, पंचायत विकास अधिकारी, राजस्व अधिकारी तथा
ग्रामीण कोषाधिकारियों की वीडियो संवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने बताया कि जिला पंचायत प्रत्येक ग्राम पंचायत में ग्रामीण
स्तरीय कोरोना कार्यबल स्थापित कर जागरूकता फैला रही है। कोरोना
नियंत्रण के लिए पहले से ही जारी नियमों को सख्त करने की दिशा में ठोस
कदम उठाया गया है। अधिकारियों की जिम्मेदारी है कि वे लोकप्रतिनिधियों को
विश्वास में लेकर अभियान को सफल बनाएं। ग्राम पंचायत स्तर पर कोरोना
नियंत्रण के लिए ग्राम पंचायत अधिकारी ग्राम सभा आयोजित तक प्रमुख फैसले
पास करवा सकते हैं। ग्रामीण सतर पर औषधि, स्वास्थ्य स्टाफ, पुलिस मदद,
सहायता केंद्र या अस्पताल में आवश्यकता पडऩे पर जिला पंचायत के सहयोग से
जिला प्रशासन मदद करेगा। गांवों में कोरोना संक्रमण के मामले शून्य
तक ले जाने के लिए ग्रामीण स्तर पर लॉकडाउन, सीलडाउन, कंटेनमेंट ज़ोन बनाए जा सकते हैं। इसके लिए आवश्यक मदद दी जाएगी। जिलाधिकारी ने बताया कि कोरोना संक्रमण की वजह से मरने वालों के शव संस्कार नि:शुल्क करने के आदेश दिए गए हैं। ग्रामीण क्षेत्रों में सीलडाउन, लॉकडाउन के लिए यदि आवश्यकता पड़े तो एसडीआरएस निधि से आर्थिक मदद दी जाएगी। पहले से ही हुब्बल्ली-धारवाड़ जुड़वां शहर में 126 जगहों पर बैरिकेड लगाए गए हैं। लोगों व वाहनों की
आवाजाही पर नियंत्रण किया गया है। ग्रामीण क्षेत्र में होम आइसोलेशन
वालों के घर से बाहर निकलने की शिकायतें मिल रही है। शिकायत मिली है कि
वे लोगों में मिल रहे हैं । ऐसे लोगों के हाथों पर टैग बांधने या सील
लगाने का फैसला लिया जा सकता है। इस बारे में जिला प्रशासन को प्रस्ताव सौंप कर अनुमति ली जा सकती है।
उन्होंने बताया कि गांव को कोरोना मुक्त गांव बनाने में अहम भूमिका निभाने वाली ग्राम पंचायत को प्रशंसा पत्र व पुरस्कार जिला प्रशासन की ओर से दिया जाएगा। कोरोना से गांव को मुक्त करमे में अहम भूमिका निभाने वाले अधिकारियों पंचायत सदस्यों का सम्मान जिला पंचायत तथा जिला प्रशासन की ओर से किया जाएगा।
जिला पंचायत तथा मुख्य कार्याकारी डॉ. बी. सुशीला तथा जिला शहरी विकास प्राधिकरण के निदेशक रुद्रेश ने भी विचार व्यक्त किए।
बैठक में उपविभागीय अधिकारी डॉ. गोपाल कृष्णा बी., जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. यशवंत मदीनकर, तहसीलदार संतोष बिरादार, उमेश पम्मार आदि उपस्थित थे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned