नौवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को अगले आदेश तक छुट्टी, धार्मिक स्थलों पर विशेष कार्यक्रमों पर रोक

कोरोना रोकथाम के लिए ठोस कदम उठाने के जिलाधिकारी ने दिए निर्देश, स्वास्थ्य विभाग की टीम ने की जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक

By: MAGAN DARMOLA

Published: 06 Apr 2021, 09:28 PM IST

धारवाड़. जिलाधिकारी नितेश पाटील ने कहा है कि कोरोना महामारी की रोकथाम के लिए राज्य आपदा प्रबंधन के अंतर्गत ठोस कदम उठाने के निर्देश सरकार की ओर से जारी किए गए हैं। नियम का उल्लंघन करने वालों, दुकान मालिकों को आपदा प्रबंधन अधिनियम के अंतर्गत जुर्माना लगा कर कानूनी कार्रवाई करने के आदेश दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों को क्रियान्वित करने के लिए विभिन्न विभाग के अधिकारियों व टीम को जिम्मेदारी सौंपी गई है। उन्होंने कहा विद्यागम, छठी तथा नौवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को छुट्टी दी गई है। सरकार की ओर से जारी आदेशानुसार जिले के सभी सरकारी तथा निजी स्कूल के 6 से नौंवी कक्षा तक के विद्यार्थियों को अगले आदेश तक छुट्टी देने का फैसला लिया गया है। धार्मिक स्थलों पर प्रवचन सहित विशेष कार्यक्रमों कों अनुमति नहीं दी जाएगी।

जिलाधिकारी कार्यालय की सभागृह में कोरोना नियंत्रण के लिए राज्य सरकार की ओर जारी गाइडलाइन को जिले में क्रियान्वित करने संबंधित स्वास्थ्य दल तथा विभिन्न टीमों के नोडल अधिकारी तथा जिले के वरिष्ठ अधिकारियों की बैठक में उन्होंने कहा नए सिरे से कोरोना की लहर भीड़ वाले क्षेत्र, अपार्टमेंट में तीव्रगति से फैल रही है। निगम अधिकारियो की जिम्मेदारी है कि वे सरकार की ओर से जारी नियमों का उल्लंघन न होने दें। जिले में कोरोना संक्रमितों के इलाज के आवश्यक बिस्तरों की व्यवस्था है। अस्पतालों में मास्क, सैनिटाइजर, पीपीकिट सहित सभी प्रकार के स्वास्थ्य सुरक्षा के उपकरण उपलब्ध हैं।

पुलिस आयुक्त लाबूराम ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर तेजी से बढ़ रही है। जनता की जिम्मेदारी है कि वे मास्क धारण करने सहित सामाजिक अंतर बनाए रखने जैसे नियमों का पालन करें। जिला पुलिस अधीक्षक पी. कृष्णकांत ने कहा कि ग्रामीण पुलिस थाने के अंतर्गत कोरोना के नियंत्रण के लिए सरकार की ओर से जारी दिशा निर्देश का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ ठोस कदम उठाया जाएगा। निगम के आयुक्त डॉ. सुरेश इट्नाल ने कहा कि जुड़वां शहर में मास्क आभियान सफलता पूर्वक चल रहा है। मास्क नहीं पहनने वालों तथा सोशल डिस्टेंस का पालन नहीं करने वालों पर जुर्माना लगाया जा रहा है।

रैली, प्रदर्शन को अनुमति नहीं

सरकार की ओर से जारी दिशा निर्देश के अनुसार रैली, विरोध प्रदर्शन, इत्यादि पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगाया गया है। संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि वे ऐसे कार्यक्रमों को ना ही प्रोत्साहित करें और ना ही अनुमति ही प्रदान करें। निजी तथा निजी परिवहन बसों में निर्धारित यात्रियों को ही अनुमति देने की अपील की गई है। वाहन संचालक की जिम्मेदारी है कि वे निर्धारित यात्रियों को ही बस में यात्रा करने की अनुमति प्रदान करें।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned