पॉपलीन कारखाने 9 जुलाई तक बंद रखने का फैसला

पॉपलीन कारखाने 9 जुलाई तक बंद रखने का फैसला

By: S F Munshi

Published: 03 Jul 2021, 12:40 AM IST

पॉपलीन कारखाने 9 जुलाई तक बंद रखने का फैसला
-इचलकरंजी के पावरलूमधारकों की बैठक
कोल्हापुर
गए चार माह से तैयार पॉपलीन कपड़ा उत्पादन खर्च से कम दर में बिक रहा है। हर दिन सूत के दाम बढ़ रहे हैं। कपड़े की मांग नहीं है जिससे पॉपलीन पावरलूमधारकों ने पुकारे बंद को बढ़ाया है। इसके बारे में फैसला पावरलूम एसोसिएशन की बैठक में लिया गया। पॉपलीन पावरलूम 25 जून से बंद हैं। अब यह बंद 9 जुलाई तक बढ़ा दिया गया है।
इचलकरंजी के लगभग 8 से 10 हजार पावरलूम बंद अवस्था में हैं जिससे हर दिन लगभग 15 लाख मीटर के अनुमान से अंदाजन दस लाख मीटर कपड़े का उत्पादन ठप हुआ है। पॉपलीन पावरलूम मंदी के चलते और आर्थिक संकट में फंसा है। बंद के कारण कामगारों को काम नहीं मिलेगा। साथ ही में कारखानदारों को किराया, बिजली बिल, कारखाना बंद रहने से फिर से शुरू करने के लिए आने वाला खर्चा उठाना पड़ेगा। उत्पादन लेकर भी खर्चा बढऩे के कारण कुछ दिन कारखाने बंद रखने का फैसला पावरलूमधारकों की गुरुवार को हुई बैठक में लिया गया।
इस समय कैश बागवान, श्रीशैल कित्तुरे, अशोक घट्टे, दिलीप ढोकले, नंदकुमार कांबले, तुकाराम सालुंखे, जयवंत अचलकर, आनंदा होगाडे, फिरोज जमखाने, गजानन मेटे, अय्यूब गजबरवाडी, सचिन सावंत, राजू राशिनकर आदि कारखानेदार उपस्थित थे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned