गणाधिपति तुलसी का विकास महोत्सव मनाया

गणाधिपति तुलसी का विकास महोत्सव मनाया

By: S F Munshi

Published: 17 Sep 2021, 01:35 AM IST

गणाधिपति तुलसी का विकास महोत्सव मनाया
इचलकरंजी
साध्वी प्रज्ञाश्री आदि ठाणा 4 के सान्निध्य में तुलसी सभागार तेरापंथ भवन इचलकरंजी में गणाधिपति आचार्य तुलसी का विकास महोत्सव मनाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत साध्वी ने मंगल नवकार महामंत्रोच्चार से की।
साध्वी प्रज्ञाश्री ने कहा कि विकास के पुरोधा, तेरापंथ धर्मसंघ के नवम अधिशास्ता गणाधिपति आचार्य तुलसी युगधारा के अनुरूप तेरापंथ की मौलिकता को सुरक्षित रखते हुए विकास के अभिनव द्वार खोलने वाले महापुरुष थे। अपने पद विसर्जन के साथ युवाचार्य को आचार्य बना कर सबके समक्ष अनासक्त भावना का परिचय देने वाले वीतराग तुल्य व्यक्तित्व थे। तेरापंथ का न केवल साधु-साध्वी समाज अपितु श्रावक-श्राविका समाज भी उनके द्वारा प्रशस्त विकास की राह पर चल रहा है। उन्होंने सोई हुई नारी शक्ति को जगाकर महिला समाज को एक सशक्त मंच प्रदान किया और विकास के नए क्षितिज प्रदान किए। साथ ही अणुव्रत, नया मोड़ जीवन विज्ञान, प्रेक्षाध्यान जैसे अवदानों से मानव समाज की प्रगति की राह रोशन की। आज भीलवाड़ा में विकास महोत्सव के साथ दीक्षा महोत्सव संघ संपदा के विकास का अवसर है।
इसी क्रम में साध्वी सरलप्रभा ने वक्तव्य, साध्वी विनितप्रभा, साध्वी प्रतीक प्रभा ने गीतिका, सभा के निवर्तमान अध्यक्ष दीपचंद तलेसरा, तेममं अध्यक्ष जयश्री, तेयुप अध्यक्ष मुकेश भंसाली, शांतिलाल आदि ने वक्तव्य, कविता आदि से अपनी भावाभिव्यक्ति प्रस्तुत की। कार्यक्रम का संचालन विकास सुराणा ने किया।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned