ड्रोन कैमरों से होगी गैर कानूनी गतिविधियों की रोकथाम

ड्रोन कैमरों से होगी गैर कानूनी गतिविधियों की रोकथाम

By: S F Munshi

Published: 09 Apr 2021, 08:45 PM IST

ड्रोन कैमरों से होगी गैर कानूनी गतिविधियों की रोकथाम
सिरसी-कारवार
प्राकृतिक आपदा, बाढ़ आदि आपदा का प्रबंधन व विशाल समारोहों के अवसर पर होने वाली गैर कानूनी गतिविधियों की रोकथाम के लिए ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल करने के लिए पुलिस विभाग की ओर से तैयारी की गई है। यह जानकारी जिला पुलिस अधीक्षक शिवप्रकाश देवराज ने दी। वे कारवार के जिलाधिकारी कार्यालय के प्रांगण में जिलाधिकारी की उपस्थिति में ड्रोन कैमरे के उपयोग तथा प्रदर्शन से संबधित डेमो प्रस्तुत करने के उपरांत बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि जिले का अधिकांश क्षेत्र वनों से घिरा है। साथ ही तटीय क्षेत्र होने की वजह से कई बार जंगलों मे आग लग जाती है। इसी प्रकार जिले में आयोजित होने वाले विशाल समारोहों के अवसर पर गैर कानूनी गतिविधियां घट जाती हंै। इस प्रकार की गैरकानूनी गतिविधियों पर नजर रखने के लिए ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल करना आवश्यक है। आपदा प्रबंधन निधि से 12 लाख रुपए की लागत वाली ड्रोन कैमरे का इस्तेमाल किया जा रहा है। भौगोलिक रूप से उत्तर कन्नड जिला विशाल है यही वजह है यहां दो ड्रोन कैमरों का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके चलते भट्कल , कुमटा, होन्नावर, सिद्दापुर, सिरसी, यल्लापुर तालुकों को एक विभाग के अंतर्गत तथा अंकोला, कारवार, जोयिडा, दांडेली, हलियाल तालुक को दूसरे विभाग के अंतर्गत शामिल किया गया है। इन दोनों विभागों में ड्रोन कैमरे इस्तेमाल करने का लक्ष्य है। ड्रोन कैमरे के डेमो देखने के पश्चात जिलाधिकारी मलै मुगिलन एमपी कहा कि आपदा प्रबंधन अनुदान के तहत जिला पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व वाली पुलिस टीम की ओर से ड्रोन कैमरे की तकनीक को अपनाया गया है। प्राकृतिक आपदा पर नजर रखने के लिए पुलिस विभाग की इस पहल की प्रशंसा हो रही है। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक एस. बद्रीनाथ, पुलिस उपअधीक्षक अरविंद कलगुज्जी, उपपुलिस अधीक्षक शिवानंद चलवादी, कारवार के सीपीआई संतोष शेट्टी सहित अन्य पुलिस कर्मचारी उपस्थित थे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned