कैसलरॉक-कुलेम घाट खंड में संवेदनशील स्थानों की ड्रोन मैपिंग

कैसलरॉक-कुलेम घाट खंड में संवेदनशील स्थानों की ड्रोन मैपिंग

By: S F Munshi

Published: 30 Jul 2021, 02:17 AM IST

कैसलरॉक-कुलेम घाट खंड में संवेदनशील स्थानों की ड्रोन मैपिंग
-दपरे ने करवाया हवाई सर्वेक्षण
हुब्बल्ली
दक्षिण पश्चिम रेलवे ने ड्रोन कैमरे का उपयोग करके कैसलरॉक-कुलेम घाट खंड का हवाई सर्वेक्षण करवाया है। 27 किलोमीटर (ब्रगांजा घाट) का यह घाट
खंड पश्चिमी घाट का हिस्सा है। यहां मानसून में बहुत भारी वर्षा होती है।
दक्षिण पश्चिम रेलवे, के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अनीश हेगड़े ने कहा कि यह सिंगल लाइन रेलवे सेक्शन है जिसमें कोई
सड़क संपर्क नहीं है। पहले से ही मई के महीने से पैदल निरीक्षण, संवेदनशील
स्थानों भूमि खिसकने, जल भराव आदि की पहचान की गई है और निवारक उपाय जैसे तटबंध की दीवारें, सैंडबैग, स्लीपर के साथ साइड की
दीवारों को किनारे करना आदि किए गए हैं। अतिरिक्त सुरक्षा उपाय के रूप में, ड्रोन
कैमरा पहाड़ी-शीर्ष, कमजोर स्थानों, ढीले बोल्डर आदि पर जलभराव के
स्थानों का वीडियो रिकॉर्ड करेगा। यदि कोई संवेदनशील/कमजोर स्थान दिखने
पर तत्काल इंजीनियरों, तकनीशियनों और ट्रैकमैन की समर्पित टीम रेलवे
ट्रैक को नुकसान/बाधा रोकने के लिए उपचारात्मक कार्रवाई करेगी। यह ध्यान
दिया जा सकता है कि पहले से ही घाट खंड में किसी भी आपात स्थिति में भाग
लेने के लिए, सैंडबैग, गिट्टी, बोल्डर, उपकरण और उपकरण तैयार हैं, कैसल
रॉक, कुलेम, तिनैघाट में समर्पित मानसून वैगन हैं।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned