रिसार्ट राजनीति के कारण पुनर्वास में बाधा

रिसार्ट राजनीति के कारण पुनर्वास में बाधा

Zakir Pattankudi | Updated: 16 Jul 2019, 07:58:25 PM (IST) Hubli, Dharwad, Karnataka, India

रिसार्ट राजनीति के कारण पुनर्वास में बाधा
-अब तक नहीं हुई निर्णायक बैठक
-बीच सड़क पर मार्केट

हुब्बल्ली

रिसार्ट राजनीति के कारण पुनर्वास में बाधा
हुब्बल्ली
राज्य में पिछले आठ-दस दिनों से चल रही रिसार्ट राजनीति का हुब्बल्ली जनता बाजार के नवीनीकरण से स्थानांतरित होने वाले दुकानदारों को पुनर्वास व्यवस्था पर बुरा असर पड़ रहा है। इससे व्यापारियों को स्थानांतरित करने में बाधा हो रही है।
पुनर्वास व्यवस्था को लेकर एक सप्ताह पूर्व ही महानगर निगम, स्मार्टसिटी तथा पुलिस अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिनिधयों की निर्णायक बैठक होनी थी परन्तु अब तक नहीं हुई। राजनीतिक अस्थिरता से स्थानीय विधायक जगदीश शेट्टर तथा प्रसाद अब्बय्या दोनों रिसार्ट में हैं। यह दोनों भी हुब्बल्ली-धारवाड़ स्मार्ट सिटी योजना के सलाह समिति के सदस्य हैं। इनकी अनुपस्थिति में स्मार्ट सिटी योजना के तहत सार्वजनिक समस्याओं को चर्चा करना संभव नहीं है।
हुब्बल्ली-धारवाड़ सिटी योजना के तहत मौजूदा जनता बाजार क्षेत्र में 20 करोड़ रुपए लागत में बहुमंजिला भवन सर उठाएगा। निर्माण स्तर पर मौजूदा दुकानदारों को वैकल्पिक जगह चिन्हित किया गया है। संगोल्ली रायण्णा सर्कल से दाजिबानपेट तक सड़क के बीच व्यापार के लिए योजना गठित की गई है परन्तु अंतिम फैसले के लिए निर्णायक बैठक होनी चाहिए।
एक अधिकारी ने बताया कि विधायकों की अनुपस्थिति से पिछले सप्ताह बैठक करना संभव नहीं हुआ है। बुधवार को विधायकों से संपर्क कर समय मांगेंगे। शायद शनिवार को बैठक हो सकती है।
जनता बाजार मार्केट नवीनीकरण करना स्मार्ट सिटी अधिकारियों का काम है। मौजूदा दुकानदारों को पुनर्वास व्यवस्था उपलब्ध करने की जिम्मेदारी महानगर निगम की है। संगोल्ली रायण्णा सर्कल से दाजिबानपेट तक दुकानदारों को पुनर्वास उपलब्ध करने पर पेश आने वाली ट्रैफिक समस्या को पुलिस विभाग नियंत्रित करना चाहिए। इस बारे में पुलिस अधिकारियों ने जगह की समीक्षा की है परन्तु अंतिम निर्णय नहीं किया है। नवीनीकरण होने वाले जनता बाजार मार्केट को स्थानांतरित करने तक पुनर्वास जगह पर किसी प्रकार की कोई बाधा हुए बिना व्यापार करने को मौका देने तथा इस बारे में संबंधित अधिकारियों को लिखित में बताने की दुकानदारों ने मांग की है।
दुकानदारों को पुनर्वास व्यवस्था उपलब्ध करने के लिए और दो जगहों को चिन्हित किया गया है। मूरुसाविरमठ स्कूल मैदान तथा गिरणीचाळ मैदान के बारे में दुकानदारों की राय पूछनी है।

32 लाख रुपए लागत


पुनर्वास सुविधा उपलब्ध करने के लिए 32 लाख रुपए खर्च किया जा रहा है। ठेकेदार सुजय कुमार शेट्टी ने निविदा प्राप्त किया है। जनता बाजार मार्केट काम्प्लेक्स निर्माण की निविदा को भी सुजय कुमार शेट्टी ने प्राप्त किया है। बहुमंजिला इमारत निर्माण के लिए 9 से 12 माह के समयसीमा की शर्त रखी गई है। बेसमेंट को छोड़कर कुल 5066 वर्ग मीटर विस्तार का भवन निर्माण होगा।
-एसएच नरेगल, विशेष अधिकारी, हुब्बल्ली-धारवाड़ स्मार्ट सिटी लिमिटेड

बीच सड़क पर मार्केट


महानगर निगम मार्केट सेक्शन के एक अधिकारी ने बताया कि प्रस्तावित पुनर्वास व्यवस्था से सड़क के बीच अस्थाई मार्केट निर्माण होगा। संगोल्ली रायण्णा सर्कल से दाजिबानपेट तक की सड़क 7 से 8.2 मीटर चौड़ी है। अधिकतम 8.2 मीटर चौड़ी सड़क पर चार मीटर चौड़ी तथा 7 मीटर चौड़ा सड़क पर दो मीटर चौड़े शेड का निर्माण किया जाएगा। तीन मीटर की ऊंचाई पर टिन की शीट लगाकर शेड निर्माण किया जा रहा है। धूप, बारिश से रक्षा होगी। दो कतारों में आमने सामने बैठकर लगभग दो सौ जने व्यापार कर सकते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned