विदेशी पर्यटक आर्थिक संकट में फंसे

विदेशी पर्यटक आर्थिक संकट में फंसे

By: S F Munshi

Published: 11 Jun 2021, 12:54 AM IST

विदेशी पर्यटक आर्थिक संकट में फंसे
पणजी
कोविड के चलते बड़ी संख्या में विदेशी पर्यटक आर्थिक संकट में फंसे हुए हैं। गोवा राज्य में उनका वीजा समाप्त हो गया है। उनके पास का पैसा खत्म होने के कारण रोजमर्रा के खर्च के लिए कुछ लोग गोवा में भीख मांगने की स्थिति पर आ गए हैं। ऐसी स्थिति में गोवा राज्य के हरमल तथा अन्य किनारी क्षेत्र में दिखाई दे रही है।
आर्थिक संकट से जूझ रहे कुछ विदेशी पर्यटकों की हालत तो सडक पर आकर स्थानीय लोगों के पास पैसों के लिए हाथ फैलाने स्थिति बन गई है। कुछ पर्यटकों के पास तो मास्क भी नहीं है। कुछ हादसों में घायल हुए हैं जिनके पास चिकित्सा खर्चे के लिए पैसा नहीं है।
हरमल पंचायत सदस्य प्रवीण वायंगणकर ने सरकार से मांग की है कि वीसा समाप्त होकर गोवा में फंसे विदेशी पर्यटकों को उनके देश को वापस भेजने की जिम्मेदारी सरकार को लेनी चाहिए।
पड्ने तालुक के मोरजी, आश्वे, मांद्रे, हरमल, केरी आदि इलाकों में सौ से अधिक विदेश पर्यटक फंसे हुए हैं। पिछले कुछ दिनों तक जीवनयापन के लिए ये पर्यटक होटलों में काम कर रहे थे। फिलहाल होटल भी बंद हो जाने से उनके रोजमर्रा के खर्च के लिए भी उनके पास पैसा नहीं है। पैसे नहीं होने के कारण उन्हें एक वक्त की रोटी के लिए भी तरसना पड़ रहा है। ये विदेशी पर्यटक पिछले वर्ष लॉकडाउन के मौके पर गोवा में फंस गए। उस समय कुछ महीनों तक गोवा के स्थानीय लोगों ने उन्हें रोजाना खाना देते थे। किराए के घरों के मालिकों ने उनका किराया भी माफ कर दिया था। अब उनकी वीजा की अवधि भी पूर्ण होने से वे आवास और खाने के लिए भी परेशान हो रहे हैं। कुछ घायल पर्यटकों की हालत भी गंभीर है जिन्हें सरकार चिकित्सा व्यवस्था करनी चाहिए। उन सभी को शीघ्र ही उनके देशों को वापस भेजने की व्यवस्था सरकार की ओर से होनी चाहिए।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned