धारवाड़ में मिली तीर्थंकरों की चार प्राचीन मूर्तियां

धारवाड़ में मिली तीर्थंकरों की चार प्राचीन मूर्तियां
-आठवीं सदी का प्राचीन कन्नड़ शिलालेख भी मिला
हुब्बल्ली

By: Zakir Pattankudi

Published: 06 Oct 2021, 08:06 PM IST

धारवाड़ में मिली तीर्थंकरों की चार प्राचीन मूर्तियां
हुब्बल्ली
धारवाड़ तालुक के कोटबागी गांव में पुराने मंदिर की खुदाई के दौरान दस फीट गहराई में जैन तीर्थंकरों की चार प्राचीन मूर्तियां मिली हैं।
चातुर्मास के उपलक्ष्य में गांव में विराजित प्रसंगसागर मुनि के आवास के लिए पुराने मंदिर की जमीन को खोदा गया। इस दौरान 10 फीट की गहराई में आठवीं सदी से पहले के तीर्थंकरों की एक मूर्ति मिली। फिर से खोदने पर और तीन मूर्तियां मिलीं।
भगवान पाश्र्वनाथ, भगवान आदिनाथ, भगवान नेमिनाथ तथा भगवान मुनिसुव्रतनाथ की मूर्ति समेत कुल चार मूर्तियां हैं। इन मूर्तियों के पास प्राचीन कन्नड़ में शिलालेख पाया गया है, जो जिज्ञासा का कारण बना है।
ग्रामीणों का कहना है कि कुछ वर्ष पूर्व इसी जगह पर भगवान आदिनाथ तथा भगवान विमलनाथ की मूर्तियां मिली थीं। अब मिली इन प्राचीन मूर्तियों को देखने के लिए कोटबागी तथा आसपास के गांवों के ग्रामीण आ रहे हैं और दर्शन कर रहे हैं। फिलहाल इन मूर्तियों के बारे में पुरातत्व विभाग को यह किस सदी की मूर्तियां हैं इस बारे में अधिक अनुसंधान करना चाहिए।

इनका कहना है

कोटबागी गांव के पुराने जैन मंदिर की जमीन में शनिवार को खुदाई के दौरान प्राचीन चार तीर्थंकरों की मूर्तियां मिली हैं। यह इस भाग में जैन धर्म के प्रचलित होने का सबूत है। इस बारे में और अधिक अध्ययन, अनुसंधान होना चाहिए।
-मुनि प्रसंगसागर

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned