अमेजॅन मामले की सेवा निवृत्त न्यायाधीश से कराएं जांच

अमेजॅन मामले की सेवा निवृत्त न्यायाधीश से कराएं जांच
-कांग्रेस की सांसद एमी याज्ञनिक ने की मांग
हुब्बल्ली

By: Zakir Pattankudi

Published: 08 Oct 2021, 05:47 PM IST

अमेजॅन मामले की सेवा निवृत्त न्यायाधीश से कराएं जांच
हुब्बल्ली
कांग्रेस की सांसद एमी याज्ञनिक ने कहा कि तीन वर्ष की अवधि में अमेज़ॅन कंपनी ने कानूनी और पेशेवर सेवा शुल्क के नाम पर सरकार को भुगतान किए 8,546 करोड़ रुपए राशि के बारे में केंद्र सरकार को उच्चतम न्यायालय के सेवा निवृत्त न्यायाधीश से जांच करानी चाहिए।
शहर में पत्रकारों से बातचीत करते हुए याज्ञनिक ने कहा कि अमरीकी मूल की अमेजॅन कंपनी से भारत में लघु एवं मध्यम उद्योग तथा उद्यमी हशिए पर चले गए हैं। लाखों श्रमिकों की जीवन सड़कों पर आ गया है। केंद्र सरकार बड़े उद्योगों को मात्र प्रोत्साहन दे रही है, जो लघू उद्यमियों के जीवन के लिए संकट बन रहा है।
उन्होंने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार अमेजॅन के समर्थन में कार्य कर रही है। इस कंपनी की लॉबिंग के आगे झूककर सुविधाएं उपलब्ध कर रही है। आत्मनिर्भर तथा मेक इन इंडिया के बारे में घंटों भाषण करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लघु उद्यमियों को किसी प्रकार की मदद नहीं दे रहे हैं। इस बारे में विपक्षी पार्टियों के सवाल करने पर प्रधानमंत्री मौन धारण कर लेते हैं। सभी के लिए क्या मौन ही जवाब है। अमेजॅन की ओर से दी गई बड़ी राशि किस राजनेता, किस वरिष्ठ अधिकारी ने स्वीकार किया है, इस बारे में प्रधानमंत्री मोदी को खुलासा करना चाहिए। केंद्र सरकार तथा ई-कॉमर्स संस्थाओं के बीच क्या रिश्ता है इस बारे में जनता को बताना चाहिए। राष्ट्रीय सुरक्षा नियमों का उल्लंघन कर अमेजॅन कंपनी की ओर से राशि स्वीकार करना क्या सही है।
संवाददाता सम्मेलन में हुब्बल्ली-धारवाड़ महानगर जिला कांग्रेस अध्यक्ष अल्ताफ हुसैन हल्लूर, नेता रजत उल्लागड्डिमठ, स्वाती मळगी, जीए दोड्डमनी समेत कई उपस्थित थे।

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned