ऑटोरिक्शा चालकों की मदद को बढ़े हाथ

ऑटोरिक्शा चालकों की मदद को बढ़े हाथ

By: S F Munshi

Published: 20 May 2021, 09:56 PM IST

ऑटोरिक्शा चालकों की मदद को बढ़े हाथ
इलकल (बागलकोट)
कस्बे के महिलाओं की संस्था जेसीआई सिल्क सिटी की ओर से यहां के 80 बेरोजगार ऑटोरिक्शा चालकों को राशन सामग्री सौंपी गई। इस मौके पर पुलिस थाना निरीक्षक एस.बी. पाटील ने कहा कि इस समय कोरोना महामारी के कारण लॉकडाउन घोषित हुआ है और ऑटोरिक्शा के पहिए थम जाने से चालकों की कमाई ठप हो गई है। इस लॉकडाउन में सबसे अधिक कठिनाई रोज कमाकर खाने वाले को हो रही है। ऑटोरिक्शा चालकों का परिवार आर्थिक तंगी झेल रहा है। इनकी परिस्थिति को देखकर इन चालकों को राहत देते हुए जेसीआई सिल्क सिटी की महिलाओं ने मिलकर एक महीने गुजारा होने जितनी राशन सामग्री देकर मानवता धर्म का निर्वाह किया है। महिलाओं का कार्य तारीफे काबिल है।


................................................................................

खेताराम महाराज की ३७वीं बरसी मनाई
होस्पेट
राजपुरोहित समाज के आदिपुरुष, वेदों के ज्ञाता, धर्म रक्षक, संत शिरोमणि, गौवंश संरक्षण, पर्यावरण समर्थक, राजपुरोहित समाज को अंतरराष्ट्रीय पहचान प्रदान कराने वाले खेताराम महाराज की ३७वीं बरसी पर कोरोना महामारी को ध्यान में रखते हुए गुरु महाराज तुलसाराम ब्रह्मधाम आसोतरा के आदेशानुसार अपने घरों में पूजा-अर्चना की गई। भगवान खेताराम के चरणों में वन्दन, नमन श्रद्धासुमन अर्पित कर राजपुरोहित समाज होस्पेट की ओर से मधुबन गौशाला व श्रीराम गौशाला किष्किन्धा में गौमाता को 201 किलो लापसी का मीठा भोजन, कबूतरों को चुग्गा एवं बन्दरों व अन्नदान करके दाता की 37वीं बरसी मनाई गई। इस मौके पर समाज के वरिष्ठजन मांगीलाल सेपाऊ रायथल, मदन आराबा, जब्बरसिंह मायलावास, अशोक सिंह, प्रवीण सिंह मायलावास, भीम सिंह रायथल आदि मौजूद रहे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned