बारिश से बागवानी और कृषि फसल बर्बाद

बारिश से बागवानी और कृषि फसल बर्बाद
-इस साल हुई 36 प्रतिशत अधिक वर्षा
हुब्बल्ली

By: Zakir Pattankudi

Published: 02 Aug 2021, 08:09 AM IST

बारिश से बागवानी और कृषि फसल बर्बाद
हुब्बल्ली
धारवाड़ जिले में लगातार हो रही बारिश से तथा कुछ जगहों पर बाढ़ आने से कृषि तथा बागवानी फसलों को भारी नुकसान पहुंचा है। 175.04 हेक्टेयर बागवानी फसल तथा 23,238 हेक्टेयर कृषि फसल बर्बाद हुई है।
बेण्णेहल्ला, तुपरीहल्ला में उफान से तबाही
धारवाड़ जिले में हालही में हुई बारिश से बेण्णेहल्ला, तुपरीहल्ला नहरों में उफान के कारण कई जगहों में बाढ़ आई। निचले इलाकों की जमीन व बागों में पानी जमा होने से कई जगहों पर फसलें जलमग्न हुईं।

सामान्य से अधिक बारिश

अधिकारियों का कहना है कि धारवाड़ जिले में इस बार जुलाई में 126.03 मिलीमीटर (मिमी) सामान्य बारिश होनी चाहिए थी परन्तु 171.02 मिमी बारिश हुई है। यह सामान्य से 36 प्रतिशत अधिक है। बारिश पर निर्भर फसलों के लिए प्रति हेक्टेयर के लिए 6,800 रुपए, सिंचाई निर्भर फसलों के लिए प्रति हेक्टेयर के लिए 13,500 रुपए तथा लम्बे समय की फसलों के लिए प्रति हेक्टेयर 18,000 रुपए मुआवजा मिलेगा। तबाही की संपूर्ण रिपोर्ट आनी है।

बागवानी फसल हुई बर्बाद

जिले में लगभग 301 किसानों की 175.35 लाख रुपए लागत की बागवानी फसल बर्बाद हुई है। प्याज 50 हेक्टेयर, सूखी लाल मिर्ची 40 हेक्टेयर, हरी मिर्ची 36 हेक्टेयर, टमाटर 15.2 हेक्टेयर, फूल की फसल 16.8 हेक्टेयर, अमरुद दो हेक्टेयर, केले की 15.4 हेक्टेयर फसल बर्बाद हुई है।
-काशीनाथ भद्रण्णवर, उपनिदेशक, बागवानी विभाग

कृषि फसलों को हुआ नुकसान

धारवाड़ जिले में मक्का 3,846.82 हेक्टेयर, सोयाबीन 3,046.62 हेक्टेयर, मूंग 11,278, मूंगफली 1,579 हेक्टेयर, कपास 1,868 हेक्टेयर, उड़द 240 हेक्टेयर, तुअर 30 हेक्टेयर, धान 671.54 हेक्टेयर, गन्ना 487 हेक्टेयर, अन्य 192 हेक्टेयर कृषि फसलों को नुकसान हुआ है।
-आईबी राजशेखर, संयुक्त निदेशक, कृषि विभाग

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned