भारत की संस्कृति दुनिया में सबसे समृद्ध

भारत की संस्कृति दुनिया में सबसे समृद्ध

By: S F Munshi

Published: 29 Dec 2020, 07:02 PM IST

भारत की संस्कृति दुनिया में सबसे समृद्ध
बीदर
भारत की संस्कृति दुनिया में सबसे धनी देशों में से एक है। इसे निभाना प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य है। हमारे देश में योग सबसे अच्छी संस्कृति है। दैनिक योग से लोगों के शरीर और दिमाग को मजबूत करके एक सुंदर और शांतिपूर्ण समाज का निर्माण किया जा सकता है। यह बात सांसद भगवंत खूबा ने की।
वह जय श्रीराम चैरिटेबल एजुकेशन ट्रस्ट, द्वारा शहर के विद्यानगर में राम मंदिर परिसर में आयोजित सात दिवसीय नि:शुल्क योग प्रशिक्षण शिविर के समापन समारोह में बोल रहे थे।
उन्होंने कहा कि लगातार योग करने से दिमाग नकारात्मकता को खत्म कर सकारात्मकता की ओर बढ़ेगा। जीवन में बुरे विचारों को रोकने में योग मददगार हो सकता है। कई महात्मा और साधु-संतों ने इस देश के लिए महान योगदान दिया है। हम स्वार्थ के लिए नहीं बल्कि स्वस्थ समाज के लिए जी रहे हैं और अपने समुदायों को स्वच्छ रखने के लिए योग का आह्वान कर रहे हैं।
मुख्य अतिथि बीदर शहरी विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष बाबू वली ने कहा बाबा रामदेव ने इस देश में योग की शुरुआत की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूएनओ की मंजूरी के साथ इसे दुनिया के सामने पेश किया है। इस योग शिविर के लिए विद्यानगर के युवाओं का योगदान सराहनीय है।
मंच पर प्रसिद्ध योग शिक्षक योगेंद्र यदालपुरे, जय श्रीराम चैरिटेबल एजुकेशन ट्रस्ट के अध्यक्ष चंद्रशेखर सिद्धरामशेट्टी और नगर परिषद के सदस्य कल्याणराव बिरादर उपस्थित थे।
योगगुरु योगेंद्र यदलापुरे, भरतनाट्यम कलाकार कु राजेश्वरी, स्वामी विवेकानंद शक्ति केंद्र के अध्यक्ष को सम्मानित किया गया। लगातार सात दिनों तक योग शिविर में भाग लेने वाले शिविरार्थियों को शपथ के साथ सम्मानित किया गया।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned