इजरायली प्रौद्योगिकी की मदद से बागवानी को उन्नत बनाने की योजना

धारवाड़ में सब्जियों के लिए उत्कृष्ट उत्पादन केन्द्र का उद्घाटन कर मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने कहा कि आधुनिक बागवानी तकनीकों को किसानों के खेतों तक पहुंचाने के लिए मौजूदा केन्द्रों को शुरू किया गया है।

By: MAGAN DARMOLA

Updated: 18 Jun 2021, 07:28 PM IST

धारवाड़. केन्द्र सरकार की समग्र बागवानी विकास योजना तथा इजराइल के माषाव संस्था की तकनीकी सहयोग से धारवाड़ में सब्जी फसलों के उत्कृष्ट केन्द्र की योजना 507.23 लाख रुपए अनुदान से शुरू की गई। मुख्यमंत्री बी.एस. येडियूरप्पा ने बेंगलूरु स्थित अपने गृह कार्यालय कृष्णा में वेबिनार के जरिए इसका उद्घाटन किया। इस अवसर पर नई दिल्ली से केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर तथा इजराइल के राजदूत डॉ. रान मल्का आदि ने भाग लिया था।

केंद्र का उद्घाटन कर मुख्यमंत्री बीएस येडियूरप्पा ने कहा कि आधुनिक बागवानी तकनीकों को किसानों के खेतों तक पहुंचाने के लिए मौजूदा केन्द्रों को शुरू किया गया है। इसका उपयोग राज्य के किसानों को प्राप्त करना चाहिए। मौजूदा केन्द्रों में आधुनिक तकनीक की जानकारी अनुभवी टीम के साथ उपलब्ध है। किसानों को इजराइली तकनीक का उपयोग करने के साथ अपनी कृषि में नयापन लाने के जरिए आर्थिक स्तर सुधार लाने का प्रयास करना चाहिए।

इस अवसर पर केन्द्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, इजराइली राजदूत डॉ. रान मल्का, बागवानी एवं रेशम मंत्री आर. शंकर ने भाग लेकर विचार व्यक्त किया। अंत में धारवाड़ जिला बागवानी विभाग की निदेशक बी. फौजिया तरन्नुम ने आभार व्यक्त किया।

आधुनिक कृषि के बारे में जागरूक हों किसान

केन्द्रीय संसदीय मामलात, खान एवं कोयला मंत्री प्रहलाद जोशी ने कहा है कि भारत और इजराइल देशों की कृषि योजना के तहत कृषि एवं बागवानी में अच्छी किस्मों को अपना कर उत्पादों को उत्कृष्ट करने के लिए इस योजना को जारी किया गया है। सब्जी फसलों के उत्कृष्ट केन्द्र से आधुनिक कृषि तकनीक के बारे में किसानों में जागरूकता पैदा करनी चाहिए। आधुनिक बागवानी तकनीक के बारे में किसानों को बेहतर प्रायोगिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों को आयोजित करना चाहिए। बागवानी में आधुनिक तकनीक के बारे में लघु टेली फिल्मों को प्रस्तुत करना चाहिए। बागवानी में जुटे लोगों को राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय वेबसाइट से जोडऩा चाहिए। शैक्षणिक अनुसंधान एवं विकास कार्यक्रमों से आधुनिक बागवानी में उन्नतीकरण हासिल करना चाहिए। किसानों को नए एवं सही आधुनिक तकनीकों को कम खर्च में उपलब्ध कर स्पर्धात्मकता को बढावा देना मुख्य उद्देश्य है।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned