कोल्हापुर ने देश को समझाया कोरोना का मतलब

कोल्हापुर ने देश को समझाया कोरोना का मतलब
-विकास डिगे की कल्पना : कोई भी रोड पर ना निकले
कोल्हापुर

By: Zakir Pattankudi

Published: 27 Mar 2020, 08:34 PM IST

कोल्हापुर ने देश को समझाया कोरोना का मतलब
कोल्हापुर
वैसे तो कोल्हापुर का नाम पहले से देश दुनिया में काफी प्रसिद्ध है, लेकिन इस बार कोरोना वायरस की वजह से भी कोल्हापुर काफी चर्चित हो गया। बात कोई घबराने वाली नहीं, बल्कि इस बार कोरोना वायरस की व्याख्या को लेकर कोल्हापुर की काफी चर्चा हो रही है।
कोरोना की भयावहता से पूरी दुनिया अपने-अपने तरीके से मुकाबला कर रही है। भारत भी पूरी शक्ति के साथ इससे लड़ रहा है। यहां हम बात २४ मार्च की रात ८ बजे की कर रहे हैं, जब देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राष्ट्र को कोरोना वायरस के मुकाबले के लिए तैयार कर रहे थे। प्रधानमंत्री ने आते ही एक हाथ में कोरोना को लेकर एक स्लोगन दिखाया, जिसमें बहुत ही सीधे शब्दों में कोरोना का अर्थ समझाया गया था। कोरोना का मतलब कोई भी रोड पर ना निकले, यही वह कल्पना है जिसकी वजह से एक बार फिर कोल्हापुर पूरी दुनिया में चर्चित हो गया। इस स्लोगन को कोल्हापुर के प्रतिभाशाली युवक विकास डिगे ने ही बनाया था। जैसे ही प्रधानमंत्री ने इसे टेलीविजन पर दिखाया यह स्लोगन पूरी दुनियाभर में वायरल हो गया। इस दौरान प्रधानमंत्री ने इस युवा कलाकार के सोचने के तरीके की काफी सराहना कर कोल्हापुर के अन्य कलाकारों का भी मान बढ़ाया।
विकास डिगे एक युवा चित्रकार हैं, जो समय-समय पर अपनी कला के माध्यम से ऐसी कई चीजों को लोगों के सामने प्रदर्शित करते रहते हैं। वैसे विकास का पूरा परिवार लम्बे समय से समाज सेवा के कार्यों से जुड़ा हुआ है। इनके दादा शंकरराव डिगे को कोल्हापुर का पहला सांसद होने का गौरव प्राप्त है और इनके पिता एस. के. डिगे जो एक सामाजिक संस्था के माध्यम से जन सेवा का कार्य कर रहे हैं।

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned