मनोरोगी और विशेष बच्चों के विकास के लिए कई नए कार्यक्रम

मनोरोगी और विशेष बच्चों के विकास के लिए कई नए कार्यक्रम

By: S F Munshi

Updated: 20 Nov 2020, 01:00 PM IST

मनोरोगी और विशेष बच्चों के विकास के लिए कई नए कार्यक्रम
-महिला और बाल विकास मंत्री शशिकला ने कहा
हुब्बल्ली
महिला और बाल विकास मंत्री शशिकला जोल्ले ने कहा है कि भारत सरकार मनोरोगी और विशेष बच्चों के सार्वभौमिक विकास के लिए कई नए कार्यक्रम कार्यान्वित कर रही है।
वे महिला बाल विकास विभाग, जिला बाल सुरक्षा इकाई तथा उणकल के सरकारी मनोविकल बाल मंदिर में आयोजित कार्यक्रम में अपना जन्मदिन मनाने के उपरांत बोल रही थीं।
उन्होंने कहा कि जहां सामान्य व स्वस्थ बच्चे के जन्म के अवसर पर घर में खुशी का माहौल बन जाता है वहीं मनोरोगी व विकलांग बच्चों के जन्म के अवसर पर अभिभावकों की चिंता बढ़ जाती है। शशिकला जोल्ले ने कहा कि इसका उन्हें स्वयं अनुभव है। उन्होंने कहा कि मनोरोगी व विकलांग बच्चे भी समाज के अभिन्न अंग होते हैं अत: भारत के सभी जि?मेदार नागरिक की जि?मेदारी है कि वे इस प्रकार के बच्चों के प्रति सहानुभूति दिखाएं। सरकार महिला व बाल विकास विभाग के बाल मंदिर के माध्यम से बच्चों के सर्वांगीण विकास के प्रति विशेष ध्यान दे रही है।
उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में विभाग में बहुत से बदलाव और सुधार हुए हैं। कोरोना की वजह से जानकारी मुहैया करवाना संभव नहीं हो पाया।
मनोरोगी तथा विकलांग बच्चों को अपने हाथों से खाना खिलाकर व उपहार देकर शशिकला जोल्ले ने सरकारी मनोविकल बाल मंदिर के सभी 47 बच्चों को नए कपडे, मिठाई वितरित कर सहानुभूति दिखाई। उन्होंने रात को विश्राम सरकारी मनोविकल बाल मंदिर में ही किया। इस अवसर पर चिक्कोडी के सांसद अण्णा साहेब जोल्ले, कर्नाटक बालविकास अकादमी के अध्यक्ष ईरण्णा जडी, जिला बाल विकास समिति की अध्यक्षा राजेश्वरी सालगट्टी, महिला तथा बाल विकास विभाग की उपनिदेशक भारती शेट्टर सहित कई उपस्थित थे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned