पूर्व विधायक काशप्पनवर पर भड़की नगरसभा अध्यक्ष

पूर्व विधायक काशप्पनवर पर भड़की नगरसभा अध्यक्ष

By: S F Munshi

Published: 11 Jun 2021, 12:39 AM IST

पूर्व विधायक काशप्पनवर पर भड़की नगरसभा अध्यक्ष
-दलित महिला अध्यक्ष बनना नहीं पचा पाने का आरोप
इलकल (बागलकोट).
एक दलित महिला की उन्नति व कार्यशीलता को पूर्व विधायक विजयानंद काशप्पनवर पचा नहीं पा रहे हैं। अपने लोप दोष छिपाने के लिए वे दूसरों पर बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। यह बात नगरसभा अध्यक्ष शोभा आमदीहाल ने नगरसभा कचहरी में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कही। उन्होंने पूर्व विधायक विजयानंद काशप्पनवर पर भड़ास निकालते हुए कहा कि उन्होंने मुझे अनपढ़ महिला कहते हुए अरे तुरे व एकवचन शब्दों का प्रयोग किया है, जो पूर्व विधायक विजयानंद काशप्पनवर को शोभा नहीं देता।
उन्होंने काशप्पनर पर आरोप लगाते हुए कहा कि विजय महांत शिवयोगी के समाधि स्थल के पीछे की आश्रय कालोनी के लाभार्थियों को चुनने के समय में खुद वसती योजना के अध्यक्ष रहते हुए अन्याय किया है और नियमों का सही ढंग से निर्वाह नहीं हुआ है।
उन्होंने बताया कि सन् 2015-16 वित्तीय वर्ष में राजीव गांधी वसती योजना तहत 240 लाभार्थियों को भूखंड देने के लिए चुना गया। हर लाभार्थी से खाली चेक लिया गया और उनके खाते में से तीस हजार रुपए निकाले गए। पहले चरण में राजीव गांधी वसती योजना के तहत सिर्फ 29 लाभार्थियों के घर निर्माण करवाने के लिए चुना गया। लाभार्थियों से लिये गये 66 लाख रुपए ठेकेदार एस.एम. पाटील के खाते में जमा हुए और उस व्यक्ति का अता पता नहीं है। जब इस प्रकरण की जांच हुई तब कर्मचारी गुड्डद व पौरायुक्त को सस्पेंड किया गया। यह प्रकरण तब का है जब काशप्पनवर विधायक थे।
अध्यक्ष शोभा ने कहा कि गत चार पांच वर्षों से भूखंड के लाभार्थी परेशान हो रहे हैं। उनकी परेशानी को दूर करने के उद्देश्य से हम लोग वहां गए थे। वहां के लाभार्थियों को सारी बातें समझा कर जो भूखंड के लाभार्थी हैं, उनको भूखंड देने के उद्देश्य से ही गए थे। लाभार्थियों के साथ बातचीत करने की बात को लेकर पूर्व विधायक विजयानंद काशप्पनवर ने कोविड गाइडलाइन का उल्लंघन करने का झूठा आरोप हम पर लगाया है। यह बात सरासर झूठ है, हमने किसी भी प्रकार से सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देश उल्लंघन किया है। अध्यक्ष ने स्पष्ट किया कि हमने न तो लाभार्थियों को स्थांतरित करने या उनके भूखंड बदलने की बात कही है। विजयानंद काशप्पनवर ने व्यक्तिगत तौर पर टीका-टिप्पणी करके मेरा अपमान किया है।
नगरसभा के सबसे वरिष्ठ पार्षद लक्ष्मण गुरम ने भी विचार व्यक्त किए। संवाददाता सम्मेलन में उपाध्यक्ष सविता आरी, सुगरेश नागलोटी, मंजुनाथ शेट्टर, चंद्रशेखर एकबोटे, हसनसाब बागवान, शारदा पत्तार, यल्लप्पा पुजारी, उमेश कोंगारी आदि मौजूद थे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned