चिकित्सकों पर हमला चिंताजनक, सुरक्षा मुहैया कराने की जरूरत

केपीसीस के मीडिया विश्लेषक पी.एच. नीरलकेरी ने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति के स्वास्थ्य की रक्षा करने में चिकित्सको की भूमिका अहम है। चिकित्सकों को सुरक्षा मुहैया करवाने के लिए केंद्र व राज्य सरकार को ठोस कदम उठाने की आवश्यकता है।

By: MAGAN DARMOLA

Published: 03 Jul 2021, 07:23 PM IST

धारवाड़. देश भर में चिकित्सकों पर हो रहे हमले जैसे मामले बढ़ रहे हैं। चिकित्सकों को सुरक्षा मुहैया करवाने की आवश्यकता है ये विचार केपीसीस के मीडिया विश्लेषक पी.एच. नीरलकेरी ने व्यक्त किए। वे शहर के जिला अस्पताल में चिकित्सक दिवस के उपलक्ष्य में चिकित्सकों के लिए आयोजित सम्मान समारोह कार्यक्रम के अवसर पर बोल रहे थे।
उन्होने कहा कि प्रत्येक व्यक्ति के स्वास्थ्य की रक्षा करने में चिकित्सको की भूमिका अहम है। डॉक्टरों की देखभाल सेवा और उपचार के तरीके मरीज के स्वास्थ्य की रक्षा करने में निर्णायक बन जाता है। चिकित्सकों की सेवा हमेशा से ही अमूल्य रही है। कोरोना की संकट घड़ी में चिकित्सकों ने जो नि:स्वार्थ सेवा दी है वह तारिफेकाबिल है। हालांकि चिकित्सक सदैव सेवातत्पर रहते हैं इसके बावजूद उन पर हमले हो रहे हैं। चिकित्सकों को सुरक्षा मुहैया करवाने के लिए केंद्र व राज्य सरकार को ठोस कदम उठाने की आवश्यकता है। सदैव मरीजों की सेवा में अग्रसर रहने वाले चिकित्सकों के प्रति साल में कम से कम एक आभार व्यक्त करने की जिम्मेदारी समाज की है। इस दिशा में चिकित्सकों के प्रति सम्मान की प्रवृत्ति हर जगह बढऩी चाहिए।

इस अवसर पर शल्य चिकित्सक डॉ. शिवकुमार मानकर, डॉ. किरण कुलकर्णी, डॉ. गविसिद्दनगौडा पाटील, डॉ. कविता, डॉ. प्रसन्न तथा डॉ. सतीश के. का सम्मान नीरलकेरी के नेतृत्व में किया गया। इस अवसर पर पूर्व मेयर आई.एम. जवली, पूर्व पार्षद प्रताप चौहान, समाज सेवक सिद्दण्णा कुंबार उपस्थित थे।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned