ग्रामीण स्वच्छता पर फोकस, जनता को जागरूक करना जरूरी

निर्मल ग्राम योजना : विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगडे ने कहा कि सार्वजनिक स्थल, गांव कितना स्वच्छ होना चाहिए इसकी जानकारी सभी को होनी चाहिए, लोगों में स्वच्छता जागरूकता पैदा करने का कार्य होना चाहिए।

By: MAGAN DARMOLA

Published: 20 Jun 2021, 07:49 PM IST

सिरसी-कारवार . विधानसभा अध्यक्ष विश्वेश्वर हेगडे कागेरी ने कहा है कि केन्द्र और राज्य सरकारें ग्रामीण स्वच्छता को प्राथमिकता दे रही हैं। वे सिरसी जिला पंचायत सभा भवन में निर्मल ग्राम योजना के तहत 5 ऑटोटिप्परों को तालुक के 5 ग्राम पंचायतों को हस्तांतरण कर बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि सार्वजनिक स्थल, गांव कितना स्वच्छ होना चाहिए की जानकारी सभी को होनी चाहिए। सिरसी तालुक में 18 कचरा निस्तारण इकाइयों को मंजूरी मिली है। उनमें 6 पंचायतों में क्रियान्वयन किया गया है। प्रति ग्राम में भी स्वच्छता को प्रमुखता दी जा रही है। एक इकाई को 20 लाख रुपए मंजूर हुए हैं। 10 लाख रुपए भवन के लिए, 5 लाख रुपए आवश्यक सामग्रियों तथा गांवों से कचरा संग्रह के लिए ऑटोटिप्पर दिए जा रहे हैं।

कागेरी ने कहा कि एक वाहन को 5.80 लाख रुपए खर्च होते हैं। सिरसी विभाग को 50 गाडिय़ां आई हैं। सिरसी-सिद्धापुर को 20 गाडियों में से 5 गाडिय़ां आई हैं। यह एक अत्युत्तम कार्यक्रम है। इस कार्यक्रम को सफल बनाने की जिम्मेदारी पंचायत कर्मचारियों तथा जनप्रतिनिधियों पर है। कचरा निस्तारण इकाई उत्तम होने पर लोगों का विश्वास बढ़ता है।
उन्होंने कहा कि गांव-गांव में पेयजल बोतलें, शराब की बोतले सड़क के किनारे पडे देखने पर भयानक स्थिति दिखाई देती है। लोगों में स्वच्छता जागरूकता पैदा करने का कार्य होना चाहिए। इससे स्वच्छता कार्यक्रम सफल होने के साथ ग्रामीण सफाई भी होगी।

इस अवसर पर तालुक पंचायत कार्यकारी अधिकारी एफ.जी. चिन्नण्णवर, जिला पंचायत प्रभारी कार्यकारी अभियंता अशोक बंट, जिला पंचायत सहायाक कार्यकारी अभियंता रामचन्द्र गांवकर, नगरसभा अध्यक्ष गणपति नायक, नगर योजना प्राधिकरण अध्यक्ष नंदन सागर, तहसीलदार एम.आर. कुलकर्णी आदि उपस्थित थे।

MAGAN DARMOLA
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned