प्रदर्शन के दौरान पथराव करने वाले हमारे कार्यकर्ता नहीं

प्रदर्शन के दौरान पथराव करने वाले हमारे कार्यकर्ता नहीं
-पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा
हुब्बल्ली

By: Zakir Pattankudi

Published: 05 Sep 2019, 08:00 PM IST

प्रदर्शन के दौरान पथराव करने वाले हमारे कार्यकर्ता नहीं
हुब्बल्ली
पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धरामय्या ने कहा कि पूर्व डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी राजनीति से प्रेरित है इसमें कोई संदेह नहीं है। कुछ समाजकंटकों ने जानबूझकर शांति भंग करने का कार्य किया है। राज्य में बसों पर पथराव, आग लगाने वाले कांग्रेस कार्यकर्ता नहीं हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री डीके शिवकुमार की गिरफ्तारी के विरोध में शांतिपूर्वक प्रदर्शन चल रहा है। शांतिपूर्वक प्रदर्शन करने के निर्देश दिए गए हैं। पथराव करने वाले हमारे कार्यकर्ता नहीं हैं। प्रदर्शन के दौरान कुछ समाजकंटक शामिल होकर ऐसे कार्य करते हैं।

पीडि़तों का दुख सुनने तक की फुर्सत नहीं

हुब्बल्ली हवाई अड्डे पर गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए सिद्धरामय्या ने कहा कि बाढ़ राहत कार्य शुरू करने में सरकार पूरी तरह विफल हुई है। सरकार के आंख व कान ने काम करना बंद कर दिया है। सरकार बहरी और अंधी हुई है साथ ही उसकी खाल इतनी मोटी हो गई है कि कुछ फर्क नहीं पड़ रहा है। सरकार को बाढ़ पीडि़तों का दुख सुनने तक की फुर्सत नहीं है।

राहत केंद्र बंद किया

सिद्धरामय्या ने कहा कि दस हजार करोड़ रुपए दिया है कहना छोड़कर दूसरा कोई कार्य नहीं हुआ है। यह दस हजार करोड़ रुपए राहत राशि सही तौर पर वितरित नहीं हुए हैं। मकान खोने वालों को न्यूनतम शेड की व्यवस्था तक नहीं की। अधिकतर जगहों में राहत केंद्र बंद किया है। बाढ़ प्रबंधन तथा राहत राशि वितरण में सरकार संपूर्ण विफल हुई है। बाढ़ से नुकसान का शिकार किसानों को फसल राहत राशि, मकान खोने वालों को अभी तक राहत राशि नहीं मिली है। घर खो चुके पीडि़तों के लिए अस्थाई शेड निर्माण करके देने का जिलाधिकारी को निर्देश दिया था परन्तु यह भी नहीं हो पाया है। कोयना बांध से पानी छोडऩे के मुद्दे पर भी राज्यों के बीच सामंजस्य की कमी साफ दिखाई दे रही है।

Zakir Pattankudi Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned