scriptProtest in western Maharashtra against the incident in Bangalore | बेंगलूरु में हुई घटना का पश्चिमी महाराष्ट्र में विरोध | Patrika News

बेंगलूरु में हुई घटना का पश्चिमी महाराष्ट्र में विरोध

बेंगलूरु में हुई घटना का पश्चिमी महाराष्ट्र में विरोध

हुबली

Published: December 18, 2021 11:20:39 pm

बेंगलूरु में हुई घटना का पश्चिमी महाराष्ट्र में विरोध
-कन्नड़ व्यवसायियों के व्यवसाय बंद किए गए
कोल्हापुर
बेंगलूरु में छत्रपति शिवाजी महाराज की प्रतिमा को क्षति पहुंचाने की घटना पर पश्चिम महाराष्ट्र में प्रदर्शन किए गए। प्रदर्शनकारियों ने कन्नड व्यवसासियों के व्यवसाय बंद करने के साथ वाहनों पर भी पथराव किया गया।
शहर के साथ जिले में सभी संगठन और संस्थाओं की ओर से निषेध किया गया। शहर में इस घटना का निषेध करने के लिए सभी शिवाजी पुतले के समक्ष एकत्र हुए और कर्नाटक सरकार इसके लिए माफी मांगे ऐसी मांग की।
इस बीच शिवसेना की ओर से पुणे-बेंगलूरु राष्ट्रीय राजमार्ग पर शिवसेना की ओर से आंदोलन किया गया। कर्नाटक में जाने वाली गाडिय़ों पर कालिख पोत दी और घोषणा देकर कर्नाटक सरकार का निषेध किया गया। इस समय शिवसेना जिलाप्रमुख संजय पवार, विजय देवणे के साथ बड़ी संख्या में शिवसैनिक उपस्थित थे।
इस घटना का मिरज में असर देखने को मिला। मिरज में गुस्साए शिवसैनिकों ने मिरज रास्ते पर कर्नाटक की दो बस और निजी वाहनों का लक्ष्य किया। शहर के कन्नड व्यावसायिकों के बोर्ड भी तोड़ डाले जिससे मिरज में तनाव का माहौल पैदा हुआ।
इस बीच यकायक हुई घटना के चलते पुलिस भी घटनास्थल पर पहुंची और शिवसैनिकों को रोकने की कोशिश की। इसके चलते नौ शिवसैनिकों को पुलिस ने गिरफ्तार किया। विजय शिंदे, चंद्रकांत मैंगुरे, पप्पू शिंदे, अतुल रसाल, महादेव हुलवान, किरण कांबले, गजानन मोरे और प्रकाश जाधव गिरफ्तार किए गए शिवसैनिकों के नाम हं।
इस बीच मिरज के साथ जत, सांगली, इस्लामपुर, विटा इन शहरों में कर्नाटक सरकार के विरोध में अलग-अलग पक्ष, संगठन रास्ते पर उतर रहे हैं। कर्नाटक सरकार से उन समाजकंटकों को गिरफ्तार कर उन पर कड़ी कारवाई करने की मांग शिवप्रेमी कर रहे हैं।
इस बीच कल रात ही इस घटना का कोल्हापुर में किया गया। शहर में हर्षल सुर्वे के मार्गदर्शन में कर्नाटक के लोगों के होटल बंद किए गए। छत्रपति शिवाजी महाराज की जय, ऐसे घोषणा देते हुए लक्ष्मीपुरी, कलंबा, राजारामपुरी, मंगलवार पेठ के साथ शहर के उपनगर में होने वाले होटल बंद करते हुए यह जमाव शिवाजी चौक में एकत्र हुए और वहां पर कर्नाटक सरकार का निषेध कर शिवाजी महाराज के पुतले का अभिषेक किया।
दोषियों के खिलाफ हो कड़ी कार्रवाई
पूरे देश की अस्मिता होने वाले छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ति को बेंगलूरु में नुकसान पहुंचाने की घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। बेंगलूरु की उन्नति शहाजीराजे के चलते हुई इसको ध्यान में रखना चाहिए। केंद्र और कर्नाटक सरकार को इसको गंभीरता से लेते हुए दोषियों पर कड़ी कार्रवाई करनी चाहिए।
-सांसद संभाजीराजे छत्रपति।
बेंगलूरु में हुई घटना का पश्चिमी महाराष्ट्र में विरोध
बेंगलूरु में हुई घटना का पश्चिमी महाराष्ट्र में विरोध

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Cash Limit in Bank: बैंक में ज्यादा पैसा रखें या नहीं, जानिए क्या हो सकती है दिक्कततत्काल पैसों की जरुरत है? तो जानिए वो 25 बैंक जो दे रहे हैं सबसे सस्ता Personal LoanNew Maruti Alto का इंटीरियर होगा बेहद ख़ास, एडवांस फीचर्स और शानदार माइलेज के साथ होगी लॉन्चVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!प्रदेश में कल से छाएगा घना कोहरा और शीतलहर-जारी हुआ येलो अलर्टइन 4 राशि की लड़कियां अपने पति की किस्मत जगाने वाली मानी जाती हैंToyoto Innova से लेकर Maruti Brezza तक, CNG अवतार में आ रही है ये 7 मशहूर गाड़ियां, जानिए कब होंगी लॉन्च

बड़ी खबरें

पीएम मोदी ने की जिला अधिकारियों से बात, बोले- आजादी के 75 साल बाद भी कई जिले रह गए पीछे, अब हो रहा अच्छा कामCoronavirus update: 24 घंटे में कोरोना के 3 लाख 37 हजार नए केस, 488 मौतेंUP Election 2022: पूर्वांचल के 12 हजार बूथों पर होगी निर्वाचन आयोग की पैनी नजर, किसी तरह की गड़बड़ी पलक झपकते होगी दूरCorona Vaccine: वैक्सीन के लिए नई गाइडलाइंस, कोरोना से ठीक होने के कितने महीने बाद लगेगा टीकाGood News: प्रियंका चोपड़ा और निक जोनस बने माता-पिता, एक्ट्रेस ने पोस्ट शेयर कर फैंस को बताया- बेबी आया है...जानलेवा लहर- 5 दिन की बच्ची समेत कई मौतें, नए केसों में एक दिन का सबसे बड़ा आंकड़ाआजादी के 75 साल बाद जो कहीं नहीं हुआ, वो इस राज्य ने कर दिखायापूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा कोरोना संक्रमित, जानिए कैसी है सेहत
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.