नकली चिकित्सकों के क्लिनिक पर छापेमारी

नकली चिकित्सकों के क्लिनिक पर छापेमारी
-डीएचओ को भी नहीं थी छापेमारी की सूचना
-जिलाधिकारी के निर्देश पर जिले में एक साथ कार्रवाई
धारवाड़-हुब्बल्ली

By: S F Munshi

Published: 27 Nov 2019, 07:02 PM IST

नकली चिकित्सकों के क्लिनिक पर छापेमारी
धारवाड़-हुब्बल्ली
नकली चिकित्सक, बिना डिग्री के एलोपैथी चिकित्सा देने वाले क्लिनिक, बिना अनुमति के कार्यरत डायग्नोस्टिक केन्द्रों पर स्वास्थ्य अधिकारियों ने छापेमारी की।
जिलाधिकारी दीपा चोळन के निर्देशानुसार जिले भर में एक साथ छापामारी की गई। इसके लिए पांच दस्तों का गठन किया गया है। इन दस्तों में स्वास्थ्य विभाग, नगर निगम, खाद्य विभाग समेत विभिन्न विभागों के अधिकारी शामिल हैं। हुब्बल्ली-धारवाड़ जुड़वां शहर के विभिन्न इलाकों में स्थित निजी स्वास्थ्य केन्द्रों व क्लिनिक पर छापामारी की गई।
नकली चिकित्सक का पता लगाया
धारवाड़ के गांधी चौक के निकट एक क्लिनिक में बवासीर का उपचार करते हुए पश्चिम बंगाल मूल के नकली चिकित्सक का पता लगाया। इस केन्द्र में गत कई वर्षों से चिकित्सा देने की बात जांच के दौरान अधिकारियों के सामने आई है। शहर के चूना भट्टी, होसयल्लापुर, बस डिपो सर्कल के निकट कुछ क्लिनिक पर चिकित्सा डिग्री नहीं होने के बावजूद एलोपैथी चिकित्सा देने का पता चला है।
छापेमारी के दौरान क्लिनिक में चिकित्सा अनुमति पत्र, निर्धारित चिकित्सा पध्दति के अलावा एलोपैथी औषधि तथा टीके संग्रह करने का पता चला है। छापेमारी को लेकर पूरी तरह गोपनियता बरती गई थी। स्वयं जिला स्वास्थ्य अधिकारी (डीएचओ) को भी इसकी सूचना नहीं थी।
जिला स्तरीय जांच दल गठित
इस बारे में प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए जिलाधिकारी दीपा चोळन ने कहा कि नकली चिकित्सकों की बढ़ती संख्या की जानकारी मिली थी। इसके चलते जिला स्तरीय अधिकारियों के जांच दस्ते का गठिन किया गया है। उप विभागीय अधिकारी, खाद्य विभाग उप निदेशक, तहसीलदार, नगर निगम तथा स्थानीय निकायों के अधिकारियों के पांच जांच दस्तों ने इस कार्रवाई में भाग लिया है। बुधवार को भी कार्रवाई जारी रही। जिले में नकली चिकित्सकों, बिना अनुमति के कार्यरत डायग्नोस्टिक सेंटर, अनुमति पत्र के बिना ही अन्य चिकित्सा पध्दति में उपचार करने वाले चिकित्सकों का पता लगा कर कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।
नकली चिकित्सक गिरफ्तार
अधिकारियों के जांच दल ने अण्णीगेरी टाउन के निजलिंगप्पा हुब्बल्ली मार्ग स्थित डॉ. हरीश नारायणपुर क्लिनिक पर छापेमारी कर नकली चिकित्सक को गिरफ्तार किया। डॉ. हरीश नारायणपुर ने चिकित्सा संबंधित कोई डिग्री नहीं होने के बावजूद यहां पर कई सालों से सुपर स्पेशालिटी अस्पताल खोलकर रोगियों का उपचार कर रहे थे। जांच दल की प्रमुख शारदा कोलकार ने बताया कि हरीश नारायणपुर अस्पताल में किसी भी चिकित्सक ने अपना नाम पंजीयन नहीं करवाया है। इसके चलते इन्हें नकली चिकित्सक की सूची में शामिल किया गया है। हुब्बल्ली के कई जगहों पर नकली क्निनिक व निजी स्वास्थ्य केंद्रों पर छापामारी कर जांच की गई।
छापेमारी में उप विभागीय अधिकारी, मोहम्मद जुबेर, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाद के उपनिदेशक सदाशिव मर्जी, तहसीलदार शशिधर माड्याल, कोट्रेश गाळी, तालुक चिकित्सा अधिकारी एस.एन. मसूती, तालुक पंचायत कार्यकारी अधिकारी पवित्रा पाटील आदि मौजूद थे।

S F Munshi Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned