उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर

उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर
उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर,उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर,उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर

Zakir Pattankudi | Updated: 09 Oct 2019, 07:34:05 PM (IST) Hubli, Dharwad, Karnataka, India

उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर
-हाथ आई फसल तबाह, यातायात बाधित
-जनजीवन अस्तव्यस्त
हुब्बल्ली

उत्तर कर्नाटक में फिर से बारिश का कहर
हुब्बल्ली
गदग, धारवाड़, हावेरी जिले के कुछ इलाकों में शनिवार से भारी बारिश हो रही है। बारिश से नदी, नाले, नहर भर गए हैं। कुछ घरों में पानी घुसने से जनजीवन अस्तव्यस्त हुआ है। खेतों में पानी जमा होने से हाथ आई फसल बर्बाद हुई है।
हुब्बल्ली-धारवाड़ जुड़वां शहर में बारिश तबाही मचा रही है। सड़क, नालियों में उफान आया, घरों की छतें टपक रही हैं। इससे लोगों का घर से बाहर निकलना भी मुश्किल हो गया।

आसपास के भवनों में ली पनाह

हुब्बल्ली में तेज हवा, बादलों की गरज के साथ हुई भारी बारिश से नालियों में आए उफान के कारण कुछ देर तक सड़कें नाले बन गए थे। निचले इलाकों में पानी भरने से लोगों को परेशानी हुई। मूरुसाविरमठ, मराठा गली, दाजिबानपेट सर्कल, कोप्पिकर रोड, दुर्गदबैल, लैमिंगटन रोड, चन्नम्मा सर्कल, होसूर सर्कल, कॉटन मार्केट, मेदार ओणी, पुरानी हुब्बल्ली समेत कई जगहों पर यातायात बाधित रहा। महावीर गली स्थित अधिकतर नालियों के भरने से बारिश के पानी की रफ्तार में वहां की गंदगी व कचरा पूरी तरह सड़क पर फैल गया। बदबू में ही चालकों व राहगिरों को गुजरना पड़ा। फुटपाथ व्यापारियों को भारी बारिश के कारण सामान सड़क पर ही छोड़कर बारिश रुकने तक आसपास के भवनों में पनाह लेनी पड़ी। बारिश से भैरिदेवरकोप्प में एक मकान गिरा। केश्वापुर तथा कृष्णापुर ओणी में दो मकान आंशिक तौर पर क्षतिग्रस्त हुए हैं।

बेण्णेहल्ला में आया उफान

बेण्णेहल्ला जलानयन क्षेत्र में लगातार हो रही बारिश से बेण्णेहल्ला में उफान आया है। मंगलवार पूरे दिन हुई बारिश से बेण्णेहल्ला में उफान आया है। इस क्षेत्र में और दो दिन बारिश होने की सम्भावना जताई जा रही है। बेण्णेहल्ला में आए उफान से आस-पास के खेतों की फसल पानी में डूब गई है।

भारी बारिश से फसलें खराब

कुंदगोल तालुक में बहने वाले बेण्णेहल्ला, कग्गोडी हल्ला, दोड्डहल्ला, सोट्टहल्ला समेत कई नहरों के मुडने से खेतों में पानी घुसा, जिससे भारी पैमाने पर फसल तबाह हुई है। भारी बारिश से फसलें पानी में खड़ी हैं। इससे कृषि गतिविधियां पूरी तरह बंद हुई हैं। खेतों में जाने के लिए सड़क नहीं होने से किसानों को जुझना पड़ रहा है। थोड़ी बचीकुची मूंगफली की फसल भी हाथ नहीं लगने का डर किसानों को सता रहा है। बीटी कपास, लालमिर्च, मूंग, लोबा, ज्वार समेत अन्य फसलें भारी बारिश से खराब हो रही हैं।

नदी जल के बहाव में बढ़ोतरी

गदग जिले के रोण के आसपार हुई बारिश से कृषि जमीन में पानी जमा होने से फसल सड़ रही है। कटाई के लिए आई हाईब्रीड ज्वार, मूंगफली, मक्का, सूरजमुखी, कपास आदि की फसलें खराब हुई हैं। गरजने के साथ हुई भारी बारिश से पूरे रोण में जनजीवन अस्तव्यस्त हुआ है। भारी बारिश से बाढ़ पीडि़त रह रहे होलेहडगली, बीएस बेलेरी, बसरकोड समेत 14 नव ग्राम सहम गए हैं। दस वर्ष पूर्व निर्मित घर जलमग्न हुए हैं। रात्रि से बिजली गुल हुई है। नहरें भरने से पानी सड़क पर बह रहा है। मलप्रभा नदी जल के बहाव में बढ़ोतरी हुई है।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned